बिहार में चाय, पेड़े की दुकान की आड़ में नशे का कारोबार, ब्राउन शुगर बरामद, 4 गिफ्तार

बिहार के नालंदा जिले के बिहार थाना क्षेत्र में चाय की दुकान की आड़ में चलने वाले नशे के काले कारोबार का भंडाफोड़ किया गया है। पुलिस को आशंका है कि इस नशे के कारोबार का बड़ा रैकेट है, जिसे अब पता लगाने में पुलिस जुट गई है।
बिहार में चाय, पेड़े की दुकान की आड़ में नशे का कारोबार, ब्राउन शुगर बरामद, 4 गिफ्तार

बिहार के नालंदा जिले के बिहार थाना क्षेत्र में चाय की दुकान की आड़ में चलने वाले नशे के काले कारोबार का भंडाफोड़ किया गया है। पुलिस को आशंका है कि इस नशे के कारोबार का बड़ा रैकेट है, जिसे अब पता लगाने में पुलिस जुट गई है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि बिहार थाना क्षेत्र के कुछ इलाकों में नशे का कारोबार चल रहा है, जहां ब्राउन शुगर और गांजा बेचा जा रहा है।

पुलिस इसकी जांच में जुटी और सूचना की पुष्टि के बाद बुधवार को मोरा तालाब, एतवारी बाजार व छोटी पहाड़ी के मुसादपुर मोहल्ला से करीब 45 ग्राम ब्राउन शुगर बरामद किया। पुलिस ने मौके पर से चार लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस उपाधीक्षक शिब्ली नेमानी ने गुरुवार को बताया कि गिरफ्तार शख्स अनिल सिंह चाय व पेड़ा दुकान में ब्राउन शुगर बेचने का कारोबार करता था। उन्होंने बताया कि यहां लोग आते थे और ब्राउन शुगर लेते थे।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार लोगों में छोटी पहाड़ी मुसादपुर मोहल्ला निवासी अनीश कुमार, टिकुली निवासी सनत कुमार और एतबारी बाजार निवासी गौरव कुमार शामिल हैं।

पूछताछ के दौरान तस्करों ने पुलिस को बताया कि आरा से ब्राउन शुगर यहां लाया जाता था और उसकी यहां आपूर्ति की जा रही थी।

इधर, बिहार के थाना प्रभारी संतोष कुमार ने कहा कि रैकेट को कई सफेदपोशों का भी संरक्षण प्राप्त हो सकता है। उन्होंने कहा कि गिरफ्तार तस्करों से नशीले पदाथरें के खरीददारों के नाम पता लगाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस अभी इस मामले की जांच कर रही है।

नालंदा के पुलिस अधीक्षक हरि प्रसाथ एस ने दावा करते हुए कहा कि नशीले पदाथरें के रैकेट का जल्द पर्दाफाश किया जाएगा और जिसकी भी संलिप्तता इस रैकेट में पाई जाएगी, उस पर कार्रवाई की जाएगी।

इस बीच, स्थानीय लोग भी पुलिस की इस कार्रवाई से प्रसन्न हैं। कई स्थानीय लोगों को तो इस कारोबार की भनक तक नहीं लगी थी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.