नीतीश ने अधिकारियों को दिया निर्देश, 'बिहार में लॉकडाउन में इच्छुक लोगों को मिले रोजगार'

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लॉकडाउन के दौरान इच्छुक सभी लोगों को रोजगार उपलब्घ कराने के निर्देश अधिकारियों को देते हुए कहा कि सबको रोजगार मिले, यह सुनिश्चित करना है, कोई मजदूर काम से वंचित नहीं रहे।
नीतीश ने अधिकारियों को दिया निर्देश, 'बिहार में लॉकडाउन में इच्छुक लोगों को मिले रोजगार'

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लॉकडाउन के दौरान इच्छुक सभी लोगों को रोजगार उपलब्घ कराने के निर्देश अधिकारियों को देते हुए कहा कि सबको रोजगार मिले, यह सुनिश्चित करना है, कोई मजदूर काम से वंचित नहीं रहे। मुख्यमंत्री ने माइकिंग के जरिए गांव-गांव तक रोजगार की उपलब्धता को लेकर लोगों को जानकारी देने के भी निर्देश भी अधिकरियों को दिए हैं।

मुख्यमंत्री गुरुवार को ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार सृजन एवं लॉकडाउन के दौरान चलाए जा रहे सामुदायिक किचन के संबंध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक की।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। लॉकडाउन के दौरान इच्छुक सभी लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए तत्परता से काम करें। सबको रोजगार मिले यह सुनिश्चित करना है, कोई मजदूर काम से वंचित न रहे।

उन्होंने कहा कि पिछली बार भी लॉकडाउन के दौरान बाहर से आए हुए लोगों के साथ-साथ यहां के भी इच्छुक लोगों के लिए मनरेगा के माध्यम से रोजगार सृजित किए गए थे। इस बार भी मनरेगा के माध्यम से लोगों को काम का अवसर देना है।

उन्होंने कहा, "ग्रामीण इलाकों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में गरीब लोगों को काम मिले, जिससे उन्हें किसी प्रकार की असुविधा न हो। कार्य करने वाले श्रमिकों का पारिश्रमिक भी समय से मिले।"

मुख्यमंत्री ने कहा कि सात निश्चय पार्ट-2 के तहत चलाई गई योजनाओं को मंजूरी दी गई है। जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत किए जा रहे कार्यों के साथ-साथ अन्य कई सरकारी योजनाआंे के तहत निर्माण कार्य भी चलाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन सभी योजनाओं में अधिक से अधिक लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जाएं।

मुख्यमंत्री ने कार्यस्थल पर इस दौरान कोविड-19 के गाइडलाइन पालन करने का भी निर्देश दिया।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने सभी जिलों में गरीब, निर्धन एवं असहायों के लिए सामुदायिक किचन का सुचारु रुप से संचालन करने का निर्देश भी अधिकारियों को दिए।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.