दिल्ली में बनेगा नया मेडिकल कॉलेज, साल 2025 तक बनकर होगा तैयार

दिल्ली में बनेगा नया मेडिकल कॉलेज, साल 2025 तक बनकर होगा तैयार

दिल्ली के द्वारका स्थित इंदिरा गांधी हॉस्पिटल अब मेडिकल कॉलेज बनने जा रहा है। यह मेडिकल कॉलेज द्वारका सेक्टर-17 में बनाया जाएगा। इस कॉलेज के बनने के बाद दिल्ली का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर होगा।

दिल्ली के द्वारका स्थित इंदिरा गांधी हॉस्पिटल अब मेडिकल कॉलेज बनने जा रहा है। यह मेडिकल कॉलेज द्वारका सेक्टर-17 में बनाया जाएगा। इस कॉलेज के बनने के बाद दिल्ली का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर होगा। यह मेडिकल कॉलेज साल 2025 तक बनकर तैयार होगा।

शुरूआती दौर में यहां छात्रों को एमबीबीएस पाठ्यक्रम ऑफर किए जाएंगे। इसके बाद एमडी, एमएस, डीएम आदि की मेडिकल डिग्री दी जाएगी। यहां पहले सत्र में 125 सीट पर दाखिले होंगे।

द्वारका स्थित इंदिरा गांधी अस्पताल, दिल्ली सरकार का अस्पताल है। इस सरकारी अस्पताल में प्राइवेट मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल की तरह ही सुविधाएं उपलब्ध है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि यह मेडिकल कॉलेज बनने के बाद दिल्ली डॉक्टरों की नई फौज तैयार करने में सक्षम होगा। डॉक्टर बनने का सपना देख रहे युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। साथ ही ऐसे छात्रों को सरकारी मेडिकल कॉलेज में दाखिले का अवसर मिलेगा, जो मेधावी तो थे लेकिन गरीबी के कारण भारी भरकम फीस वाले डोनेशन की वसूली में लिप्त प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों में दाखिला लेने में असर्मथ थे।

उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार की ओर से लगातार स्वास्थ्य सुविधाओं और स्वास्थ्य शिक्षा को बढ़ावा दिया जा रहा है। इंदिरा गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में स्टूडेंट्स की पढ़ाई के साथ शोध पर विशेष ध्यान दिया जाएगा, ताकि यह मेडिकल कॉलेज शोध और मौलिकता का पॉवर हाउस बनकर उभरें।

दिल्ली सरकार द्वारा बनाए गए इंदिरा गांधी अस्पताल परिसर का एक हिस्सा खाली रखा गया है, जिस पर भविष्य में मातृ एवं शिशु कल्याण अस्पताल बनेगा। यहां प्रसव के बाद शिशु की बेहतर देखभाल की जाएगी। करीब 600 बेड का यह अस्पताल सभी सुविधाओं से लैस रहेगा। इसमें मां और नवजात से जुड़ी सारी सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी।

बता दें, वर्तमान में इंदिरा गांधी अस्पताल में मेडिसीन, बाल चिकित्सा, नेत्र विज्ञान, ईएनटी, त्वचा विज्ञान, शल्य चिकित्सा व भौतिक चिकित्सा सहित महिला रोग विशेषज्ञ ओपीडी चालू है। हाल ही में अस्पताल ने यहां इमरजेंसी सेवा भी शुरू की है। यहां कई स्तर पर स्टाफ की नियुक्ति भी जारी है।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री कहना है कि सरकारी अस्पतालों में अगले कुछ वर्षों के दौरान बिस्तरों की संख्या काफी तेजी से बढ़ेगी। विभिन्न अस्पतालों के विस्तार पर काम चल रहा है। केजरीवाल सरकार अपने लक्ष्य के लिए प्रतिबद्ध हैं और जनता की सेवा के लिए समर्पित हैं। यही वजह है कि दिल्ली के निवासियों को किफायती और गुणावत्तायुक्त स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की जा रही है। हम लगातार स्वास्थ्य संबंधी आधारभूत संरचना का विस्तार कर रहे हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.