दिल्ली: अमेरिकी दूतावास की मदद से 800 शिक्षकों ने किया इंग्लिश लैंग्वेज सर्टिफिकेशन प्रोग्राम

कोरोना के गंभीर संकट के बावजूद, दिल्ली सरकारी स्कूल के शिक्षकों को विश्वस्तरीय प्रशिक्षण और मेंटरिंग का अवसर मिला है।
दिल्ली: अमेरिकी दूतावास की मदद से 800 शिक्षकों ने किया इंग्लिश लैंग्वेज सर्टिफिकेशन प्रोग्राम

कोरोना के गंभीर संकट के बावजूद, दिल्ली सरकारी स्कूल के शिक्षकों को विश्वस्तरीय प्रशिक्षण और मेंटरिंग का अवसर मिला है। शिक्षा निदेशालय ने रीजनल इंग्लिश लैंग्वेज ऑफिस, अमेरिकी दूतावास की भागीदारी से 2017 में टीईएसओएल सर्टिफिकेशन प्रोग्राम (टीसीसीपी) शुरू किया।

कोरोना की शुरूआत के साथ, ट्रेनिंग ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर स्थानांतरित हो गए और अब तक टीईएसओएल कार्यक्रम में दिल्ली सरकार के 800 से अधिक शिक्षक प्रशिक्षित हुए हैं। साथ ही अबतक दिल्ली सरकार के 13 शिक्षकों को बहुप्रतिष्ठित फुलब्राइट फेलोशिप भी मिल चुकी है।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एक ऑनलाइन कार्यक्रम में दिल्ली सरकार के मेंटर टीचर्स को टीईएसओएल कोर सर्टिफिकेट प्रोग्राम पूरा करने पर बधाई दी और 75 मेंटर टीचर्स के साथ ट्रेनिंग ऑफ ट्रेनर्स प्रोग्राम को लांच किया।

टीईएसओएल कोर्स को पूरा करने वाले शिक्षकों को बधाई देते हुए, सिसोदिया ने कहा, "मैं टीईएसओएल, अमेरिकी दूतावास और अमेरिकी सरकार की टीम का बहुत आभारी हूं कि उन्होंने महामारी की परवाह किए बिना हमारे शिक्षकों को इतने सहज तरीके से प्रशिक्षण देने में हमारी मदद की।

टीईएसओएल कार्यक्रम के माध्यम से 800 से अधिक शिक्षकों ने गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण प्राप्त किया है। उपमुख्यमंत्री ने जब इस कोर्स को पूरा करने वाले शिक्षकों के साथ बातचीत की, तो शिक्षकों बताया कि कैसे इस कार्यक्रम ने उन्हें यह समझने में मदद की, कि कैसे अंग्रेजी को एक भाषा के रूप में सीखा जा सकता है, न कि एक विषय के रूप में।"

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि हम सभी इस विषय पर चिंतित हैं कि महामारी की चुनौतियों के दौरान कैसे छात्रों के भविष्य की बेहतरी के लिए उन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दी जाए।

उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम से हमारे शिक्षकों को बेहतर ट्रेनिंग मिलेगी जिससे लाखों छात्र प्रभावित होंगे। इस कार्यक्रम ने अंग्रेजी भाषा पर हर शिक्षक की पकड़ को मजबूत किया है और मुझे यकीन है कि हमारे छात्रों को इससे काफी फायदा होगा। इसलिए एक विकसित शिक्षा प्रणाली का ढांचा तैयार करने के लिए दिल्ली सरकार, शिक्षकों के मेंटरिंग और ट्रेनिंग पर ज्यादा ध्यान देती है।

कार्यक्रम में दिल्ली के शिक्षा निदेशक उदित प्रकाश राय भी मौजूद थे। उन्होंने कहा, "हमारे शिक्षकों ने इस कार्यक्रम की लगातार प्रशंसा की है। यह केवल एक प्रशिक्षण कार्यक्रम नहीं है, वास्तव में इसने शिक्षकों को अंग्रेजी में सोचने की जगह दी है और इसका बच्चों पर गहरा प्रभाव पड़ता है। जब आप सीखना बंद कर देते हैं तो आप बढ़ना बंद कर देते हैं। हम इस आदर्श वाक्य के साथ जीते हैं कि सीखना आकर्षक होना चाहिए और हमारे शिक्षकों के लिए यह विशेष प्रशिक्षण आकर्षक रहा है। कई शिक्षकों ने इस प्रशिक्षण से लाभ उठाया है और अपने इंग्लिश स्किल्स को बेहतर किया है।"

इस ट्रेनिंग कोर्स को पूरा करने वाली दिल्ली सरकार के स्कूल की एक टीचर संगीता शर्मा ने कहा, "इस कोर्स से मुझे बहुत से इनसाइट्स मिले हैं, जिसे मैं टीचिंग-लनिर्ंग प्रोसेस में शामिल कर सकती हूं। टीईएसओएल कोर्स के कारण मेरी थिंकिंग प्रोसेस में बदलाव आया है और स्किल्स बढ़ी हैं।"

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news