अस्पतालों में अगले 4-5 दिनों में 2700 नए बेड्स बढ़ाये जाएंगे : मनीष सिसोदिया

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली सरकार दिल्ली के अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रही है। उन्होंने साथ ही लोगों को लॉकडाउन का सही तरीके से पालन करने की अपील की।
अस्पतालों में अगले 4-5 दिनों में 2700 नए बेड्स बढ़ाये जाएंगे : मनीष सिसोदिया

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली सरकार दिल्ली के अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रही है। उन्होंने साथ ही लोगों को लॉकडाउन का सही तरीके से पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि लोगों को पैनिक नहीं होना चाहिए। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए यह बात कही।

दिल्ली सरकार के अनुसार, पिछले 2 ह़फ्तों में दिल्ली में कोरोना बेड्स की संख्या 3 गुणा तक बढ़ाई गई है। 3 अप्रैल को दिल्ली में कोरोना बेड्स की संख्या 6071 थी जो आज 20 अप्रैल को 19101 है।

उपमुख्यमंत्री ने बताया , "दिल्ली सरकार कोरोना बेड्स बढ़ाने के लिए लगातार काम कर रही है और आने वाले 4-5 दिनों में दिल्ली के अस्पतालों में 2700 नए बेड्स बढ़ा दिए जाएंगे। बुराड़ी अस्पताल में अभी 320 बेड्स मंजूर है जिनकी संख्या 800 की जाएगी।"

"अम्बेडकर नगर अस्पताल में बेड्स की क्षमता 200 से 600 की जाएगी। दीनदयाल अस्पताल में बेड्स 250 से बढ़ाकर 750 किए जाएंगे। आचार्य भिक्षु अस्पताल और डीआरडीओ के कोरोना सेंटर में 250-250 नए बेड्स शामिल किए जाएंगे। नरेला के राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में बेड्स की संख्या 200 से 400 की जाएगी।"

साथ ही दिल्ली सरकार के एक स्कूल को एलएनजेपी अस्पताल से जोड़ा जाएगा जिसमें 125 बेड्स शामिल होंगे और कॉमनवेल्थ गेम्स विलेज में 500 बेड्स का सेन्टर तैयार किया जाएगा। ये सभी बेड्स आगामी 4-5 दिनों में तैयार कर दिए जाएंगे। उपमुख्यमंत्री ने बताया कि अभी भी दिल्ली में करीब 2500 बेड्स खाली है।

उपमुख्यमंत्री ने लोगों से पैनिक न होने और लॉकडाउन के सभी नियमों का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि कोरोना होने पर लोग डरकर अस्पताल की ओर न भागे बल्कि होम आइसोलेशन को अपनाए।

होम आइसोलेशन कोरोना से लड़ने का सबसे कारगर उपाय है। होम आइसोलेशन के दौरान डॉक्टर नियमित रूप से लोगों से फोन पर संपर्क में रहते है। यदि तेज बुखार आता है या सिम्पटम्स ज्यादा बढ़ते है तभी अस्पतालों में जाए।

उपमुख्यमंत्री ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि अस्पताल जाने से पहले 'दिल्ली कोरोना ऐप' पर अस्पतालों में बेड्स की स्थिति जांच ले और जहां बेड्स मौजूद हो वहां जाए इससे समय बचेगा।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news