दिल्ली यूनिवर्सिटी के St. Stephen’s College पर लगा एडमिशन पॉलिसी उल्लंघन करने का आरोप, जाने क्या है मामला..

इस संबंध में दिल्ली यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कॉलेज प्रिंसिपल को पत्र लिखकर एडमिशन गाइडलाइन का पालन करने की हिदायत दी है।
दिल्ली यूनिवर्सिटी के St. Stephen’s College पर लगा एडमिशन पॉलिसी उल्लंघन करने का आरोप, जाने क्या है मामला..

दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रतिष्ठित सेंट स्टीफंस कॉलेज (St. Stephen’s College) पर एडमिशन पॉलिसी का उल्लंघन करने का आरोप लगा है।

इस संबंध में दिल्ली यूनिवर्सिटी प्रशासन (Delhi University Administration) ने कॉलेज प्रिंसिपल को पत्र लिखकर एडमिशन गाइडलाइन का पालन करने की हिदायत दी है।

साथ ही कॉलेज प्रशासन को चेतावनी दी है कि अगर नियमों को पालन नहीं किया गया तो कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है लेकिन ऐसे आरोप क्यों लगे और इसके पीछे की वजह क्या है?

जाने क्या है पूरा मामला..

देश में 21 सेंट्रल यूनिवर्सिटीज हैं। इनमें बैचलर कोर्स में दाखिला कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) के जरिए हो रहा है। इस संबंध में UGC ने पॉलिसी बनाई और यूनिवर्सिटी को पत्र लिख इसकी जानकारी दी।

इसके बाद DU की ऐकडैमिक काउंसिल ने यूजीसी के फैसले का स्वागत करते हुए 21 मार्च की बैठक में इसे लागू करने का फैसला लिया था।

अब हुआ ये कि सेंट स्टीफंस कॉलेज ने गाइडलाइन को मानने से इनकार कर दिया। उसने अपने हिसाब से एडमिशन शुरू कर दिए।

सेंट स्टीफंस दिल्ली यूनिवर्सिटी के टॉप रैंक कॉलेजों में शामिल है। ये एक माइनॉरिटी कॉलेज है। इसे देखते हुए DU के रजिस्ट्रार विकास गुप्ता ने सेंट स्टीफंस कॉलेज के प्रिंसिपल जॉन वर्गीज को पत्र भेजकर CUET गाइडलाइन का पालन करने का निर्देश दिया।

निर्देश में कहा गया है कि ईसाई समुदाय से संबंधित उम्मीदवारों के लिए एक ही मेरिट लिस्ट होनी चाहिए। इसके अंदर किसी भी अल्पसंख्यक समुदाय की उप-श्रेणियों को शामिल नहीं किया जाएगा।

इसके साथ ही कॉलेज की ओर से सभी उम्मीदवारों के लिए इंटरव्यू के लिए 15 प्रतिशत का वेटेज नहीं दिया जा सकता है क्योंकि ऐसा करना दिल्ली यूनिवर्सिटी के नियमों के खिलाफ होगा।

निर्देश के मुताबिक कॉलेज प्रबंधन केवल अल्पसंख्यक उम्मीदवारों के लिए तय 50 प्रतिशत आरक्षित सीटों पर ही 85:15 का रेश्यो लागू करेगा।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news