भड़काऊ भाषण: नूपुर शर्मा, ओवैसी, स्वामी यति नरसिम्हनंदा समेत 13 लोगों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया केस

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्राथमिकी में भाजपा के पूर्व नेता नवीन कुमार जिंदल और नुपुर शर्मा, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, शादाब चौहान, सबा नकवी, मौलाना मुफ्ती नदीम, अब्दुर रहमान, गुलजार अंसारी और स्वामी यति नरसिम्हनंदा के नाम हैं।
भड़काऊ भाषण: नूपुर शर्मा, ओवैसी, स्वामी यति नरसिम्हनंदा समेत 13 लोगों के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया केस

दिल्ली पुलिस की इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशन (आईएफएसओ) इकाई ने विभिन्न दलों के कई राजनीतिक नेताओं द्वारा कथित रूप से नफरत भरे भाषण देने के संबंध में दो अलग-अलग मामले दर्ज किए हैं।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्राथमिकी में भाजपा के पूर्व नेता नवीन कुमार जिंदल और नुपुर शर्मा, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, शादाब चौहान, सबा नकवी, मौलाना मुफ्ती नदीम, अब्दुर रहमान, गुलजार अंसारी और स्वामी यति नरसिम्हनंदा के नाम हैं।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, हमने उन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है, जो नफरत के संदेश फैला रहे हैं, विभिन्न समूहों को उकसा रहे हैं और ऐसी स्थिति पैदा कर रहे हैं, जो सार्वजनिक शांति बनाए रखने के लिए हानिकारक हैं।

हम साइबर स्पेस में अशांति पैदा करने के इरादे से झूठी और गलत जानकारी को बढ़ावा देने में विभिन्न सोशल मीडिया संस्थाओं की भूमिकाओं की जांच करेंगे। वे देश के सामाजिक ताने-बाने से समझौता कर रहे हैं।

अधिकारी ने कहा कि एक प्राथमिकी आईपीसी की धारा 153, 295, 505 के तहत दर्ज की गई है। इस एफआईआर में कई नेताओं के नाम हैं। नूपुर शर्मा व अन्य के खिलाफ अलग से मामला दर्ज किया गया है।

अधिकारी ने कहा कि ओवैसी का नाम आईएफएसओ इकाई द्वारा कथित भड़काऊ टिप्पणी को लेकर दर्ज प्राथमिकी में भी है, जो उन्होंने बुधवार को की थी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news