दिल्ली रेस्टोरेंट 'साड़ी वीडियो' मामले पर NCW ने पुलिस कमिश्नर को लिखा पत्र, रेस्टोरेंट कर्मियों को दस्तावेज के साथ बुलाया

इसके अलावा आयोग ने रेस्टोरेंट के मार्केटिंग और जन संपर्क (पीआर) निदेशक को भी लिखा है कि वे सहायक दस्तावेज और स्पष्टीकरण के साथ 28 सितंबर को दोपहर 12:30 बजे सुनवाई के लिए आयोग के समक्ष प्रस्तुत हों।
दिल्ली रेस्टोरेंट 'साड़ी वीडियो' मामले पर NCW ने पुलिस कमिश्नर को लिखा पत्र, रेस्टोरेंट कर्मियों को दस्तावेज के साथ बुलाया

सोशल मीडिया पर तेजी से एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें रेस्टोरेंट स्टॉफ ने एक महिला को प्रवेश की अनुमति नहीं दी क्योंकि वह साड़ी पहने हुई थी, इस मसले पर राष्ट्रीय महिला आयोग अध्यक्ष ने पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखा कि मामले की जांच करें और यदि लगाए गए आरोप सही पाए जाते हैं तो रेस्तरां के खिलाफ तुरंत आवश्यक कार्रवाई करें।

इसके अलावा आयोग ने रेस्टोरेंट के मार्केटिंग और जन संपर्क (पीआर) निदेशक को भी लिखा है कि वे सहायक दस्तावेज और स्पष्टीकरण के साथ 28 सितंबर को दोपहर 12:30 बजे सुनवाई के लिए आयोग के समक्ष प्रस्तुत हों।

आयोग ने अपने बयान में कहा है कि, साड़ी भारतीय संस्कृति का हिस्सा है और भारत में महिलाएं प्रमुख रूप से साड़ी पहनती हैं, इसलिए किसी भी महिला को उसकी वेशभूषा के आधार पर रेस्तरां में प्रवेश करने से मना करना गरिमा के साथ जीने के अधिकार का उल्लंघन है।

अत: आयोग रेस्तरां के कर्मचारियों की मनमानी एवं विचित्र व्यवहार तथा उसकी नीतियों की निंदा करता है।

वहीं इससे पहले दिल्ली के अकीला रेस्टोरेंट ने इसपर स्पष्टीकरण देते हुए कहा था कि वीडियो में पूरी सच्चाई नहीं है। घटना को गलत तरीके से प्रस्तुत किया गया और कहा कि प्रतिष्ठान हमारे भारतीय समुदाय का सम्मान करने में विश्वास करता है और हमेशा आधुनिक से पारंपरिक तक सभी ड्रेस कोड में हमारे मेहमानों का स्वागत करता है।

दरअसल महिला पत्रकार अनीता चौधरी ने फेसबुक पर वीडियो साझा करते हुए आरोप लगाया था कि उन्हे रविवार को दिल्ली के रेस्टोरेंट में प्रवेश नहीं करने दिया गया, क्योंकि उन्होंने साड़ी पहनी हुई थी।

Note: Yoyocial.News लेकर आया है एक खास ऑफर जिसमें आप अपने किसी भी Product का कवरेज करा सकते हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.