मध्य प्रदेश में धार्मिक स्थलों में 50 लोग एक साथ जा सकेंगे

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के कमजोर पड़ने के बाद आम जन जीवन सामान्य हो चला है। राज्य में अब आस्था के केंद्र भी खुलने लगे है, ईदगाह को छोड़कर सभी धार्मिक स्थलों में 50 लोगों केा एक साथ प्रवेश की अनुमति दे दी गई है।
मध्य प्रदेश में धार्मिक स्थलों में 50 लोग एक साथ जा सकेंगे

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के कमजोर पड़ने के बाद आम जन जीवन सामान्य हो चला है। राज्य में अब आस्था के केंद्र भी खुलने लगे है, ईदगाह को छोड़कर सभी धार्मिक स्थलों में 50 लोगों केा एक साथ प्रवेश की अनुमति दे दी गई है। अभी तक अधिकतम छह लोग ही प्रवेश कर पाते थे।

राज्य के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा ने एक आदेश जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि सभी धार्मिक एवं पूजा स्थलो में स्थान की उपलब्धता को ध्यान में रखकर एक समय में अधिकतम 50 लोग पूजा व अर्चना कर सकेंगे। साथ ही कोविड-19 के लिए तय प्रोटोकाल का पालन कराना प्रबंधन के लिए बंधनकारी होगा।

आदेश मे साफ किया गया है कि यह सुविधा ईदगाह को छोड़कर होगी। इस तरह ईदगाह अब भी सूने ही रहेंगे। इस वजह से ईद उल अजहा की नमाज ईदगाह की बजाय मस्जिदों में अता की जा सकेगी। यह व्यवस्था 31 जुलाई तक लागू रहेगी।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news