मध्य प्रदेश में सुधर रहे हैं कोरोना के हालात

मध्य प्रदेश में सुधर रहे हैं कोरोना के हालात

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोविड की रोकथाम और बचाव के लिये कोविड प्रबंधन रणनीति कामयाब होती जा रही है। इसमें जन-सहभागिता की महती भूमिका है। कोरोना संक्रमण लगातार कम होता जा रहा है।

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बाद बिगड़े हालात धीरे-धीरे सुधर रहे हैं। राज्य में पॉजिटिविट दर सभी जिलों में 10 प्रतिशत के नीचे पहुंच गई है। राज्य सरकार ने 31 मई तक पॉजिटिविटी दर शून्य पर लाने का लक्ष्य रखा है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी की कोरोना नियंत्रण हेतु गठित कोर ग्रुप की बैठक में बताया गया कि प्रदेश की सोमवार की पॉजिटिविटी दर 3.9 प्रतिशत रही। प्रदेश के सभी जिलों में 10 प्रतिशत से कम पॉजिटिविटी दर है। इन्दौर की पॉजिटिविटी दर 8.1 प्रतिशत तथा भोपाल की पॉजिटिविटी दर 7.6 प्रतिशत रही।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोविड की रोकथाम और बचाव के लिये कोविड प्रबंधन रणनीति कामयाब होती जा रही है। इसमें जन-सहभागिता की महती भूमिका है। कोरोना संक्रमण लगातार कम होता जा रहा है।

जो भी गाँव और ग्राम पंचायत कोरोना संक्रमण से पूर्णतया मुक्त हो जाये, उसकी विधिवत गर्व के साथ कोरोना मुक्त होने की घोषणा जन-प्रतिनिधि या क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्य करें। अच्छा कार्य करने वाली आपदा प्रबंधन कमेटियों को 15 अगस्त को पुरस्कृत किया जाये।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कोरोना को मिटाने का अभियान चलता रहे ताकि कोरोना के लक्षण वाले व्यक्तियों की पहचान होती रहे तथा उन्हें उचित उपचार दिया जा सके।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन किया जाये ताकि 31 मई तक शूून्य प्रतिशत पॉजिटिविटी दर को हासिल किया जा सकें। नागरिक उचित व्यवहार उपयोग कर कोरोना संक्रमण से बच सकते हैं। कोरोना अभी रहेगा और दुनिया की गतिविधियाँ भी चलती रहेगी। सावधानी रखी जाये। माइक्रो कन्टेनमेन्ट जोन बनाये जाये। वार्ड स्तर पर संक्रमण को रोका जाये।

The worsening situation after the Corona infection in Madhya Pradesh is slowly improving. The positive rate in the state has reached below 10 percent in all districts. The state government has targeted to bring the positivity rate to zero by 31 May.

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news