मप्र में मरीजों को अस्पताल लाने के लिए 200 एंबुलेंस किराए पर लेने को मंजूरी

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिल सके इसके लिए सरकारी स्तर पर प्रयास जारी है। राज्य सरकार ने कोरोना मरीजों को अस्पताल तक ले जाने की सुविधा मुहैया कराने के लिए 200 अतिरिक्त एंबुलेंस किराए पर लेने को मंजूरी दी है।
मप्र में मरीजों को अस्पताल लाने के लिए 200 एंबुलेंस किराए पर लेने को मंजूरी

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिल सके इसके लिए सरकारी स्तर पर प्रयास जारी है। राज्य सरकार ने कोरोना मरीजों को अस्पताल तक ले जाने की सुविधा मुहैया कराने के लिए 200 अतिरिक्त एंबुलेंस किराए पर लेने को मंजूरी दी है। अब राज्य में इस काम में कुल 348 एंबुलेंस लगेगी।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बताया कि कोविड - 19 मरीजों के अस्पताल तक ले जाने लिए प्रदेश के जिलों में 148 वाहन की स्वीकृति दी गई थी। अब दो सौ और निजी एंबुलेंस को इस काम में लगाने को मंजूरी दी गई है। इस प्रकार अब प्रदेश के जिलों में कोविड संक्रमित मरीजों के लिए 348 एम्बुलेंस वाहन से अस्पताल ले जाने के लिए उपलब्ध रहेंगे।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने बताया कि पूर्व में एम्बुलेंस वाहन को कोविड केयर सेंटर पर रखे जाने के निर्देश दिये गये थे। अब जिला कोविड कमांड एवं कंट्रोल सेन्टर पर एम्बुलेंस वाहन को रखे जाने के निर्देश जिला कलेक्टर को दिये गये हैं।

उन्होंने बताया कि जिलों के अतिरिक्त निर्धारित अधिकतम सीमा के अंतर्गत दूरस्थ ब्लॉक पर एम्बुलेंस रखने का निर्णय कलेक्टर के द्वारा लिया जा सकेगा।

मंत्री डॉ. चौधरी में बताया कि 200 अतिरिक्त एम्बुलेंस वाहन मेसर्स जिगित्सा हेल्थ केयर लिमिटेड के माध्यम से कोविड 19 के मरीजों के परिवहन के लिए किराये पर लेने की अनुमति दी गई है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news