Money Laundering Case: ईडी ने संजय राउत को फिर भेजा समन, मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 27 जुलाई को होना होगा पेश

राज्यसभा सांसद के वकीलों ने समन पर लिखित प्रतिक्रिया के साथ मुंबई में ईडी अधिकारियों से मुलाकात की और अगस्त के पहले सप्ताह के बाद उनके लिए समय मांगा।
Money Laundering Case: ईडी ने संजय राउत को फिर भेजा समन, मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 27 जुलाई को होना होगा पेश

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में पूछताछ के लिए शिवसेना सांसद संजय राउत को 27 जुलाई को मुंबई में पेश होने के लिए नया समन जारी किया है।

राज्यसभा सांसद के वकीलों ने समन पर लिखित प्रतिक्रिया के साथ मुंबई में ईडी अधिकारियों से मुलाकात की और अगस्त के पहले सप्ताह के बाद उनके लिए समय मांगा।

संसद सत्र के चलते ईडी कार्यालय नहीं पहंचे राउत
सूत्रों ने कहा कि राउत (60) ने बुधवार को एजेंसी के मुंबई जोनल कार्यालय में पेश होने में इसलिए असमर्थता जताई क्योंकि वह दिल्ली में चल रहे संसद सत्र में भाग ले रहे हैं।

27 जुलाई को जांच एजेंसी के समक्ष पेश होने को कहा
ईडी ने उन्हें सिर्फ एक हफ्ते के लिए राहत दी और अधिकारियों के मुताबिक उन्हें 27 जुलाई को संघीय जांच एजेंसी के सामने पेश होने के लिए कहा गया है।

शिवसेना नेता ने किसी भी गलत काम से इनकार किया है और आरोप लगाया है कि राजनीतिक प्रतिशोध के कारण उन्हें निशाना बनाया जा रहा है।

राउत महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के वफादार रहे हैं, जिन्हें हाल ही में शिवसेना में विद्रोह और विभाजन के बाद पद से हटा दिया गया था।

राउत से 1 जुलाई को भी हुई थी पूछताछ
राज्यसभा सांसद से इस मामले में 1 जुलाई को पूछताछ की गई थी। उन्होंने जांच अधिकारी के साथ करीब 10 घंटे बिताए थे, इस दौरान मनी लॉन्ड्रिंग प्रिवेंशन एक्ट (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तह उनका बयान दर्ज किया गया था।

राउत ने 1 जुलाई को ईडी द्वारा पूछताछ के बाद संवाददाताओं से कहा, "मैंने पूरा सहयोग दिया और उनके सभी सवालों के जवाब दिए। अगर वे मुझे बुलाएंगे तो मैं फिर से पेश होउंगा।" उन्होंने कहा था कि वह इसलिए निडर और अविचलित थे क्योंकि उन्होंने जीवन में कुछ भी गलत नहीं किया है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news