Maharashtra Bandh: महाराष्‍ट्र बंद के दौरान शिवसेना कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी, ऑटोरिक्शा चालकों पर बरसाए लाठी और थप्पड़

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में चार किसानों को कुचले जाने की घटना के एक हफ्ते बाद महा विकास अघाड़ी सरकार ने किसानों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए महाराष्‍ट्र बंद का आह्वान किया था।
Maharashtra Bandh: महाराष्‍ट्र बंद के दौरान शिवसेना कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी, ऑटोरिक्शा चालकों पर बरसाए लाठी और थप्पड़

लखीमपुर हिंसा के खिलाफ सोमवार को महाराष्ट्र बंद के दौरान शिवसेना कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी भी सामने आई। इस घटना का एक वीडियो सामने आया है। दरअसल, महाराष्ट्र के ठाणे में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने सड़क पर गुजरने वाले हर ऑटोरिक्शा चालकों पर थप्पड़ और लाठी से हमला कर रहे थे। बंद के दौरान शिवसेना कार्यकर्ताओं को ठाणे जिले में सड़कों पर गश्त करते और ऑटोरिक्शा चालकों को रोकते देखा गया। इस दौरान उन्होंने कई ड्राइवर को थप्पड़ भी मार दिया। साथ ही कुछ लोगों के पास लाठियां भी थीं, जिससे वह वहां से गुजर रहे ऑटोरिक्शा चालकों को मारते नजर आए। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में चार किसानों को कुचले जाने की घटना के एक हफ्ते बाद महा विकास अघाड़ी सरकार ने किसानों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए महाराष्‍ट्र बंद का आह्वान किया था।

विरोध करने वालों पर  भड़के शिवसैनिक

कुछ लोग ऐसे भी थे जो इस बंद में शामिल नही होना चाहते थे तो उनके साथ शिवसैनिकों की गुंडागर्दी देखने को मिली। जबरदस्ती दुकानें बंद करवाई गईं और लोगों के साथ मारपीट भी की गई। इतना ही नहीं महाराष्ट्र सरकार ने दुकानों को बंद करवाने के लिए पुलिस का भी सहारा लिया। एक और वीडियो महाराष्ट्र के रत्नागिरी से सामने आया है जहां पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने एक दुकान में घुसकर दुकानदार को धमका रहे हैं और दुकान बंद करने के लिए कह रहे हैं। अंत में दुकानदार मजबूर होकर अपनी दुकान बंद करने लगता है। शिवसैनिकों की गुंडागर्दी के ऐसे कई वीडियो सामने आ रहे हैं!

बेस्ट की नौ बसों में की तोड़फोड़

बेस्ट की ओर से बताया गया कि बंद के दौरान शहर के अलग-अलग हिस्से में उनकी नौ बसों को क्षतिग्रस्त किया गया। बेस्ट द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि प्रदर्शनकारियों ने सुबह-सुबह धारावी, मानखुर्द, शिवाजी नगर, चारकोप, ओशिवारा, देवनार और इनऑर्बिट मॉल के पास पट्टे पर किराए पर ली गई एक सहित नौ बसों में तोड़फोड़ की है।

फडणवीस ने कहा-  आजाद भारत के इतिहास में पहली बार हो रहा ऐसा 

पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने राज्य सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि आजाद भारत के इतिहास में पहली बार ऐसा हो रहा है कि जिनपर कानून-व्यवस्था को चलाने की जिम्मेदारी है, उन्होंने ही बंद बुलाया। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट और बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा था कि इस तरह का बंद सही नहीं है और शिव सेना पर जुर्माना ठोका था। हमारी मांग है कि हाई कोर्ट को इस मामले को देखना चाहिए। 

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.