राजस्थान के पाली में पहली बार देखा गया दुर्लभ गुलाबी तेंदुआ

देश के इतिहास में पहली बार राजस्थान के पाली जिले में स्थानीय लोगों ने रणकपुर क्षेत्र में एक दुर्लभ गुलाबी तेंदुआ देखा। यह क्षेत्र अरावली पहाड़ियों में स्थित है।
राजस्थान के पाली में पहली बार देखा गया दुर्लभ गुलाबी तेंदुआ

देश के इतिहास में पहली बार राजस्थान के पाली जिले में स्थानीय लोगों ने रणकपुर क्षेत्र में एक दुर्लभ गुलाबी तेंदुआ देखा। यह क्षेत्र अरावली पहाड़ियों में स्थित है। अधिकारियों ने पुष्टि की कि यह देश में गुलाबी तेंदुआ देखे जाने का पहला मौका है।

जानकारों का कहना है कि इस तेंदुए का स्ट्रॉबेरी रंग का होना किसी जेनेटिक कंडीशन की वजह से हो सकता है।

साल 2012 में गुलाबी रोएं पर धब्बे वाला एक तेंदुआ दक्षिण अफ्रीका में देखा गया था। साल 2019 में इसे फिर से देखा गया था।

वन अधिकारियों ने पुष्टि की कि रणकपुर और कुंभलगढ़ में स्थानीय लोग पहले भी कई बार गुलाबी तेंदुआ देखने का दावा करते रहे हैं। हालांकि, हाल ही में इस क्षेत्र में स्ट्रॉबेरी रंग के रोएं वाली बड़ी बिल्ली की तस्वीर खींची गई थी।

कुंभलगढ़ वन क्षेत्र राजस्थान के राजसमंद जिले में स्थित है, जो 600 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। कुंभलगढ़ भारतीय तेंदुआ, भेड़िया, धारीदार लकड़बग्घा, सुनहरा सियार और सांभर जैसी अन्य प्रजातियों का घर है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news