सुअरों की मौत से खुलासा, यूपी में फैला अफ्रीकन स्वाइन फ्लू, कंटेनमेंट जोन बने

यूपी के फैजुल्लागंज में जीवित और मृत सूअरों से 13 अन्य नमूने लेकर भोपाल स्थित लैब जांच के लिए भेजे गए थे। इनकी रिपोर्ट आ गई है। इन नमूनों में भी अफ्रीकन स्वाइन फीवर की पुष्टि हुई है।
सुअरों की मौत से खुलासा, यूपी में फैला अफ्रीकन स्वाइन फ्लू, कंटेनमेंट जोन बने

यूपी के फैजुल्लागंज में जीवित और मृत सूअरों से 13 अन्य नमूने लेकर भोपाल स्थित लैब जांच के लिए भेजे गए थे। इनकी रिपोर्ट आ गई है। इन नमूनों में भी अफ्रीकन स्वाइन फीवर की पुष्टि हुई है। कुछ समय से यूपी के फैजुल्लागंज में बड़ी संख्या में सुअरों की मौत हो रही थी। इसी के बाद उनके नमूने जांच करवाए गए। वहीं, गुरुवार को फिर क्षेत्र में सूअर का शव मिला है। नगर निगम की टीमें दिन भर खुले घूम रहे सूअरों को पकड़ने में जुटी रहीं। पशुपालन विभाग ने प्रभावित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है।

अफ्रीकन स्वाइन फ्लू से मरने वाले फैजुल्लागंज में अब तक सवा सौ सूअरों की मौत हो चुकी है। अपर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. अतुल अवस्थी ने बताया कि कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। इसके तहत सूअर पालकों को निर्देश दिए गए हैं कि जानवर को पशुबाड़े में ही रखें। बीमार सूअर को अलग रखें। कंटेनमेंट जोन घोषित होने के बाद पशु पालन विभाग और नगर निगम ने पालकों को थाने में बैठाकर दिशा निर्देश दिए हैं। बताया गया कि यह वायरस जनित रोग है जो सिर्फ सूअर को ही होता है।

वहीं फैजुल्लागंज में शुक्रवार को कोई नया संक्रामक रोगी नहीं मिला है। अहिमामऊ में भी चिकन पॉक्स का कोई नया मामला नहीं आया है। डिप्टी सीएमओ डॉ. मिलिंद वर्धन के मुताबिक सात लोगों के रक्त नमूने एकत्र कर केजीएमयू को भेजे गए हैं। इस घटना से स्थानीय लोग दहशत में हैं। लोगों को बीमारी के फैलने का डर है। स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम को सूअरों की मौत की सूचना दी जा रही है।

सीएचसी ने जानकारी दी थी कि सीएमओ की टीम जांच कर रही है। वहीं, नगर निगम के संयुक्त निदेशक पशु कल्याण डॉ. अरविंद राव का कहना है कि मरे जानवर उठाने के लिए कंट्रोल रूम में शिकायत भेजें। इन जानवरों को खुले में छोड़ने पर पाबंदी लगा दी गई है। वहीं कोरोना और मंकी पॉक्स की दस्तक के बीच सूअरों के मरने से अन्य बीमारी का खतरा भी मंडरा रहा है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news