आगरा मेट्रो निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ्तार, 10 महीने में पूरा हुआ 100 पिलर्स का निर्माण

मेट्रो परियोजना टीम ने निर्माण शुरू होने के महज 10 महीने में 100 पियर्स का निर्माण पूरा कर लिया। पियर्स, जिन्हें आमतौर पर पिलर्स के नाम से जाना जाता है, मेट्रो के यू-गर्डर्स के लिए मुख्य सपोर्ट स्ट्रक्च र हैं।
आगरा मेट्रो निर्माण कार्य ने पकड़ी रफ्तार, 10 महीने में पूरा हुआ 100 पिलर्स का निर्माण

मेट्रो परियोजना टीम ने निर्माण शुरू होने के महज 10 महीने में 100 पिलर्स का निर्माण पूरा कर लिया। पियर्स, जिन्हें आमतौर पर पिलर्स के नाम से जाना जाता है, मेट्रो के यू-गर्डर्स के लिए मुख्य सपोर्ट स्ट्रक्चर हैं।

उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉपोर्रेशन के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने कहा, पियर्स का समय पर निर्माण इंगित करता है कि परियोजना को सटीकता और समयबद्ध तरीके से निष्पादित किया जा रहा है और पूरी परियोजना को अत्यधिक सुरक्षा, सटीकता के साथ निश्चित समय सीमा के भीतर निष्पादित किया जाएगा।

ताज ईस्ट गेट स्टेशन और फतेहाबाद रोड से चलने वाले प्रायोरिटी स्ट्रेच के 3 किमी एलिवेटेड सेक्शन के लिए 100 पियर्स हैं।

कॉरिडोर का पहला स्टेशन - ताज ईस्ट गेट - आकार में आना शुरू हो चुका है और जल्द ही बनकर तैयार हो जाएगा।

ताज ईस्ट गेट मेट्रो स्टेशन के लिए कॉनकोर्स से प्लेटफॉर्म तक निर्माण कार्य शुरू होने के साथ-साथ कॉनकोर्स एरिया के लिए डबल टी-गर्डर पहले से ही लगाए जा रहे हैं।

बसई मेट्रो स्टेशन का कॉनकोर्स बीम भी डाला गया है और स्टेशन क्षेत्र का निर्माण कार्य जल्द ही शुरू हो जाएगा।

आगरा मेट्रो परियोजना का उद्घाटन लगभग 7 दिसंबर, 2020 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था।

इसके उद्घाटन की तारीख से केवल 10 महीनों में, मेट्रो परियोजना टीम ने 29.4 किलोमीटर लंबे पहले कॉरिडोर के प्राथमिकता वाले खंड के लिए 616 पाइल, 120 पाइल कैप और 102 पियर पूरे किए हैं, जो ताज ईस्ट गेट से लेकर सिकंदरा तक का मार्ग है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news