अमित शाह के 'JAM' वाले बयान पर असदुद्दीन ओवैसी बोले- 'क्या बिना मुसलमान के नाम लिए रात में नींद नहीं आती'

अलीगढ़ में असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, अमित शाह ने आजमगढ़ की रैली में JAM का जिक्र किया. हमसे पूछा गया तो हमने कहा हम तो टोस्ट पर JAM लगाकर खा लेते हैं तो आप कौन से JAM की बात कर रहे हैं.
अमित शाह के 'JAM' वाले बयान पर असदुद्दीन ओवैसी बोले- 'क्या बिना मुसलमान के नाम लिए रात में नींद नहीं आती'

उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे विधानसभा के चुनाव नजदीक आ रहे हैं बयानों को लेकर सियासत तेज हो रही है. पहले अखिलेश यादव के जिन्ना वाले बयान को लेकर खूब सियासत हुई. अब अमित शाह के JAM वाले बयान पर वार पलटवार शुरू हो गया है. इसी कड़ी में AIMIM के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है.

अलीगढ़ में असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, अमित शाह ने आजमगढ़ की रैली में JAM का जिक्र किया. हमसे पूछा गया तो हमने कहा हम तो टोस्ट पर JAM लगाकर खा लेते हैं तो आप कौन से JAM की बात कर रहे हैं. उनको हर बात में आजम खान....आपको क्या बिना मुसलमान के नाम लिए रात में नींद नहीं आती?.

अमित शाह ने बताया था JAM का ये मतलब

बता दें कि गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि मोदी जी ने एक JAM लाया है जिससे भ्रष्टाचार विहीन खरीद हो सके. JAM का अर्थ है, J- जन धन बैंक खाते, A- आधार कार्ड और M- हर आदमी को मोबाइल. समाजवादी पार्टी ने भी JAM लाया है और उसका अर्थ है, J- जिन्ना, A- आजम खान और M- मुख्तार है. ये लोग यूपी का भला नहीं कर सकते.

इससे पहले अमित शाह के 'जैम' वाले बयान पर पलटवार करते हुए अखिलेश यादव ने कहा, 'इधर-उधर के जैम मत ढूंढिए, जैम अकेले अच्छा नहीं लगता है. सब लोगों ने सुबह नाश्ता किया होगा और बिना बटर के आप भी नहीं चलोगे और ये भाजपा वाले नहीं जानते कि डायबिटीज में जैम नहीं खाया जाता है.' यादव ने कहा कि 'बिना बटर के कुछ नहीं हो सकता, बटर का मतलब अगली बार बताएंगे लेकिन इतना जान लीजिए कि उन्‍होंने जैम भेजा है तो हम उनके लिए 'बटर' भेज रहे हैं.'

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news