सीतापुर हो या रामपुर, हम चेहरा देखकर नहीं करते विकास - मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज प्रदेश में बिना भेदभाव, बगैर जाति, मत, मजहब अथवा चेहरा देखे, समाज के सभी वर्गों का विकास जा रहा है। एक समय था कि जब गरीबों का राशन सैफई चला जाता था।
सीतापुर हो या रामपुर, हम चेहरा देखकर नहीं करते विकास - मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज प्रदेश में बिना भेदभाव, बगैर जाति, मत, मजहब अथवा चेहरा देखे, समाज के सभी वर्गों का विकास जा रहा है। एक समय था कि जब गरीबों का राशन सैफई चला जाता था। हाथी का पेट इतना बड़ा था कि गरीबों के लिए रखा सारा अनाज उसमें समा जाता था। लेकिन आज तो रामपुर हो या सीतापुर हर जगह विकास का उजियारा है। हर गरीब का अपना घर है, हर घर शौचालय है।

यही नहीं, आज तो सीतापुर जेल में भी बिजली आती है। मुख्यमंत्री योगी बुधवार को सीतापुर में 484.41 करोड़ की लागत वालीं 167 परियोजनाओं लोकार्पण-शिलान्यास कर रहे थे। कार्यक्रम में उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को घर की प्रतीकात्मक चाभी सौंपी तो मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, कन्या सुमंगला योजना, विश्वकर्मा श्रम सम्मान, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना और आयुष्मान योजना के तहत पात्र लोगों को योजना का लाभ भी दिया।

जनसमूह के सामने साढ़े चार साल का लेखा-जोखा पेश करते हुए उन्होंने लोगों से भाजपा पर विश्वास बनाने के लिए आभार जताया तो विश्वास दिलाया कि सरकार एक-एक नागरिक के सुरक्षा, सम्मान और स्वावलम्बन को सुनिश्चित करेगी। नैमिष धाम को प्रणाम अर्पित करते हुए सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार की योजनाओं का सबसे ज्यादा लाभ पाने वाले जिलों में सीतापुर पहले नंबर पर है।

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में सीतापुर की उपेक्षा पर दु:ख जताते हुए सीएम ने कहा कि राजधानी लखनऊ के इतना निकट होने के बाद भी विकास की रोशनी यहां नहीं आई। जनपद की बाढ़ की समस्या का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले जब बाढ़ या बीमारी का प्रकोप आता था तो सरकारें कान में तेल डाल कर रजाई ओढ़ कर सो जाया करती थीं। हमने 2017 में यहां वादा किया था और आज बाढ़ की समस्या का निदान हो रहा है।

उत्साह से लबरेज जन समूह से आतीं 'जय श्री राम' और 'भारत माता की जय' के नारों के बीच योगी ने सपा, बसपा और कांग्रेस सरकारों की नीति और नीयत पर भी सवाल उठाए। उन्होंने जनता से पूछा कि क्या कांग्रेस कभी कश्मीर से अनुच्छेद 370 का कलंक मिटा सकती थी?

लोगों ने कहा नहीं, योगी ने फिर पूछा, क्या सपा-बसपा कभी अयोध्या में 500 साल का इंतजार खत्म कर राम मंदिर बनवाती, लोगों ने कहा कभी नहीं। योगी ने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार है जो देश की आकांक्षाओं को पूरा कर रही हम वरना, सपा सरकार में तो आतंकवादियों पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाते थे। कावंड़ यात्रा पर रोक लगती थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस को समाज में भेदभाव, जातिवाद और पक्षपात को बढ़ावा देने वाली पार्टियां हैं। हमने 2017 में वादा किया किसानों की कर्ज माफ करने का। सरकार बनी और 86 लाख किसानों का कर्ज माफ हुआ।

उन्होंने कहा कि सीतापुर हम सभी के लिए बड़ा पवित्र तीर्थ है। जब पूरी दुनिया अंधकार में जी रही थी, तब 88,000 ऋषियों ने इसी धरती पर भागवत का वाचन किया था। यह ज्ञान की धरती है।

Note: Yoyocial.News लेकर आया है एक खास ऑफर जिसमें आप अपने किसी भी Product का कवरेज करा सकते हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.