उत्तर प्रदेश: बांदा में अपने घर में मृत पाई गईं भाजपा नेता श्वेता सिंह गौर, पति लापता

श्वेता सिंह गौर के पति दीपक सिंह गौर भी भाजपा के सक्रिय नेता है। श्वेता सिंह गौर और उनके पति दीपक सिंह गौर लगातार भारतीय जनता पार्टी के हर कार्यक्रम में सक्रिय भूमिका निभाते रहे हैं।
उत्तर प्रदेश: बांदा में अपने घर में मृत पाई गईं भाजपा नेता श्वेता सिंह गौर, पति लापता

उत्तर प्रदेश के जनपद बांदा में जिला पंचायत के वार्ड नंबर 12 से सदस्य व भाजपा नेत्री श्वेता सिंह गौर का बुधवार को उनके आवास पर संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी पर झूलता शव मिला। यह जानकारी मिलते ही भाजपा के नेताओं में हड़कंप मच गया।

मौके पर पुलिस अधीक्षक और भाजपा के पदाधिकारी पहुंच गए। घटनास्थल से पति को फरार बताया जा रहा है। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

घटना शहर कोतवाली अंतर्गत इंदिरा नगर मोहल्ले में स्थित उनके आवास पर हुई। भाजपा नेता दीपक सिंह और की पत्नी श्वेता सिंह गौर (35) जसपुरा के वार्ड 12 से जिला पंचायत से सदस्य थी। जिनका शव बुधवार को उनके घर में फांसी पर लटकता मिला।

श्वेता सिंह गौर के पति दीपक सिंह गौर भी भाजपा के सक्रिय नेता है। श्वेता सिंह गौर और उनके पति दीपक सिंह गौर लगातार भारतीय जनता पार्टी के हर कार्यक्रम में सक्रिय भूमिका निभाते रहे हैं।

पर क्या कारण है कि अच्छी भली जिंदगी से श्वेता इस कदर टूटीं कि अपने ही घर में उन्हें फांसी लगाकर आत्महत्या करने पर मजबूर होना पड़ा। घटना का कारण पता करने पर लोग दबी जुबान से पारिवारिक कलह को वजह बता रहे हैं।

भाजपा नेता का पति दीपक सिंह गौड़ भी एक भाजपा कार्यकर्ता और एक शराब व्यापारी है। वह भी कथित तौर पर लापता है।

बांदा शहर कोतवाली अंतर्गत इंदिरा नगर में श्वेता सिंह गौर अपने पति दीपक सिंह गौर और तीन बच्चों के साथ रहती थीं। भरा-पूरा सम्पन्न परिवार जिसे आमतौर पर सुविधा सम्पन्न परिवार कहा जा सकता है, उस पर अवसाद की छाया ऐसी पड़ी कि देखते ही देखते तीन छोटे बच्चों की भी परवाह न करते हुए एक मां को सदा सदा के लिए ये दुनिया छोड़ देने को मजबूर होना पड़ा।

श्वेता सिंह गौर ने बीती रात फेसबुक पर एक पोस्ट में घायल शेरनी वाला स्टेटस लगाया था जिससे पता चलता है कि आखिर कुछ न कुछ बात जरूर थी कि जिससे उन्हें फांसी लगाने का फैसला करना पड़ा।

मृतका रिटायर्ड आईपीएस ऑफिसर,राज बहादुर सिंह की बहू है।हालांकि आज सुबह सुबह श्वेता सिंह गौर के फेसबुक एकाउंट से एक और पोस्ट की गयी जोकि उनके रोजाना का नियम था। वो पोस्ट एक प्रकार का सुविचार थी।

इस बीच पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने बताया कि आज जिला पंचायत सदस्य स्वेता सिंह गौर द्वारा आत्महत्या की खबर मिलने पर मौके पर जांच पड़ताल करने पर पाया कि कमरा अंदर से बंद था और पंखे के सहारे शव फांसी पर लटका हुआ था।

घटनास्थल का डॉग स्क्वायड व फॉरेंसिक टीम जांच कर रही है। मौके पर उनके पति नहीं मिले, परिवारी जनों से बातचीत पर पता चला कि पति पत्नी के बीच काफी दिनों से विवाद चल रहा था। बीती रात भी दोनों के बीच झगड़ा हुआ था।

संभवत इसी कारण उन्होंने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है, जांच के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.