लखनऊ: गुलाला घाट पर लकड़ियों की हो रही काला-बाज़ारी, दाह संस्कार के लिए भी बता रहे पैकेज
Photos and Videos by Dheeraj Dhawan

लखनऊ: गुलाला घाट पर लकड़ियों की हो रही काला-बाज़ारी, दाह संस्कार के लिए भी बता रहे पैकेज

खबर तो यह है कि कर्मचारियों द्वारा अवैध वसूली भी हो रही है। मुफ्त लकड़ियां बेची जा रही है मात्र आधे दामों पर और दाह संस्कार कराने वाले आचार्य भी मनमाने दामों पर पैकेज बना रहे हैं ।

लखनऊ में कोरोना मृतकों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। लखनऊ नगर निगम द्वारा गुलाला घाट में कोरोना से खत्म होने वाले मृतकों के लिए मुफ्त में उपलब्ध लकड़ियां कराई जा रही है और साथ ही साथ इलेक्ट्रिक क्रिमिनेशन सेंटर मे भी दाह संस्कार किया जा रहा है।

बात यहीं नहीं खत्म होती खबर तो यह है कि कर्मचारियों द्वारा अवैध वसूली भी हो रही है। मुफ्त लकड़ियां बेची जा रही है मात्र आधे दामों पर और दाह संस्कार कराने वाले आचार्य भी मनमाने दामों पर पैकेज बना रहे हैं जिसमें आपको सेवाएं मिलेंगी जैसे कि बस, पूजा सामग्री और मात्र रुपए 15000 से 25,000 तक जैसा ग्राहक मिल जाए। इसमे अचार्य द्वारा जाने वाली पूजा, शव वाहन और पूजा सामग्री भी शामिल है।

शव को जलाने के लिए लकड़ी के चार्ज अलग से,घाट पर लगे कर्मचारी जो शव जलाते हैं उनके भी मनमाने पैसे होते हैं।

Yoyocial.news के चीफ़ फ़ोटोग्राफर ने लकड़ी बांटने वाले कर्मचारी से बात की लेकिन उसने भी इस बात को नकार दिया।

हालांकि नगर निगम हर तरह की सुविधा प्रदान कर रहा है लेकिन कुछ कर्मचरियों की लापरवाही के कारण यह सुविधाएं जनता तक नहीं पहुँच पा रही हैं। जिससे जनता को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

शवों के साथ आने वाले परिजन परेशान होते हैं और उन्हें तीन-चार घंटे का इंतजार करना पड़ता है, जगह भी कम पड़ गई है और जहां चाहे वहां चिता तैयार है इसके लिए पैसे खर्च करने पड़ते हैं जिसके पास नहीं है वह बेहाल है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news