बदायूं गैंगरेप केस : सीएम योगी का कड़ा रुख, हैवान पुजारी पर 50 हजार का इनाम घोषित, लगाई गई एसटीएफ

बदायूं गैंगरेप केस : सीएम योगी का कड़ा रुख, हैवान पुजारी पर 50 हजार का इनाम घोषित, लगाई गई एसटीएफ

अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि सीएम योगी ने घटना का संज्ञान लेते हुए बरेली के एडीजी से पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी है। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि अगर आरोपी की तलाश में एसटीएफ को लगाना पड़े तो उन्हें लगाकर जल्द घटना की जांच की जाए।

यूपी के बदायूं में 50 साल की महिला संग हैवानियत और उसकी हत्या के मुख्य आरोपी हैवान पुजारी पर प्रदेश सरकार ने शिकंजा कसा है। गैंगरेप के मुख्य आरोपी पर यूपी सरकार ने 50 हजार का इनाम घोषित किया है। सीएम योगी ने मामले को संज्ञान में लेते हुए कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हें। सीएम योगी ने आरोपी की तलाश करने के लिए एसटीएफ को निर्देश दिए हैं। साथ ही एसटीएफ मामले की जांच भी करेगी। डीएम कुमार प्रशांत ने बताया कि गैंगरेप के दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी महंत की गिरफ्तारी के लिए एक टीम बनाई गई है। उन्होंने बताया आरोपियों पर एनएसए के तहत कार्रवाई भी की जाएगी। आरोपी के खिलाफ फास्ट ट्रैक में मुकदमा चलाया जाएगा, जिससे दोषी को जल्द से जल्द सजा मिल सके।

अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि सीएम योगी ने घटना को संज्ञान में लेकर बरेली के एडीजी से पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी है। सीएम योगी ने निर्देश दिए हैं कि अगर आरोपी की तलाश में एसटीएफ को लगाना पड़े तो उन्हें लगाकर जल्द घटना की जांच की जाए। दोषियों पर तुरंत कार्रवाई करके उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाए।

जानें क्या है पूरा मामला
यूपी के बदायूं जिले के उघैती में पूजा करने गई 50 वर्षीय आंगनबाड़ी सहायिका की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला के गुप्तांग में रॉड जैसी कोई चीज डालने का मामला सामने आया था। उसकी बाईं पसली, बायां पैर और बायां फेफड़ा भी वजनदार प्रहार से क्षतिग्रस्त कर दिया गया। महिला की मौत की वजह अधिक रक्तस्राव व सदमा लगने से होना सामने आई थी तो पुलिस महकमे पर सवाल उठने लगे। इस घटना से पुलिस महकमे की जमकर छीछालेदर हुई।

उधर इस घटना पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी संज्ञान में लिया है। आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने बताया कि घटना का संज्ञान लेते हुए एक चिट‌्ठी लिखने के साथ-साथ बुधवार को ही एक सदस्य बदायूं भेजा जा रहा है। वे परिवार और पुलिस से मिलेंगी। देखेंगी कि महिला से गैंगरेप के मामले में कार्रवाई ठीक से हुई है या नहीं। अगर हुई है तो कितनी़? बदायूं में राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य आने की खबर से पुलिस विभाग में खलबली मची है।

लापरवाही में इंस्पेक्टर सस्पेंड
यूपी के बदायूं जिले में महिला से गैंगरेप के बाद हुय हैवानियत के मामले पुलिस रात भर आरोपियों की तलाश में जुटी रही। पुलिस ने महंत के चेले और ड्राइवर को गिरफ्तार लिया है। मामले में इंस्पेक्टर रावेंद्र प्रताप सिंह की खुली लापरवाही सामने आई। इस पर एसपी देहात सिद्धार्थ वर्मा और सीओ बिल्सी अनिरुद्ध सिंह की प्रारंभिक जांच रिपोर्ट के आधार पर एसएसपी ने थानेदार को निलंबित कर दिया।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news