लखनऊ: शादी के तीसरे दिन बहू ने रखी नोएडा में डेढ़ करोड़ का फ्लैट खरीदने की डिमांड, पूरी नहीं हुई तो ज्वैलरी लेकर फरार

आशुतोष नगर निवासी विजय कुमार के मुताबिक उन्होंने बेटे संजीव की शादी ग्रेटर नोएडा अल्फा डी-101 निवासी सुनील की बेटी आकांक्षा से की थी। विदा होकर घर आने के बाद आकांक्षा केवल तीन दिन तक ससुराल में रही थी।
लखनऊ: शादी के तीसरे दिन बहू ने रखी नोएडा में डेढ़ करोड़ का फ्लैट खरीदने की डिमांड, पूरी नहीं हुई तो ज्वैलरी लेकर फरार

लखनऊ में बेटे की शादी के तीसरे दिन ही बहू जेवर और रुपये लेकर मायके चली गई। वहां पहुंचने के बाद बहू ने ग्रेटर नोएडा में डेढ़ करोड़ रुपये का फ्लैट दिलाने के लिए कहा। मांग पूरी नहीं होने पर परिवार को दहेज प्रताड़ना के मुकदमे में धमकी दी। यह आरोप लगाते हुए कृष्णानगर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है। पीड़ित का आरोप है कि युवती के साथ उसका पूरा परिवार शादी कर रुपये ऐंठने का काम करता है।

आशुतोष नगर निवासी विजय कुमार के मुताबिक उन्होंने बेटे संजीव की शादी ग्रेटर नोएडा अल्फा डी-101 निवासी सुनील की बेटी आकांक्षा से की थी। विदा होकर घर आने के बाद आकांक्षा केवल तीन दिन तक ससुराल में रही थी। उसे विवाह में जेवर दिए गए थे। साथ ही मुंह दिखाई में भी कई रिश्तेदारों ने गहने और रुपये दिए थे। जिन्हें लेकर आकांक्षा मायके चली गई थी। बहू को विदा कराने के लिए उन्होंने समधी सुनील कुमार वर्मा को फोन किया था। लेकिन वह बेटी को भेजने को तैयार नहीं हुए। उन्होंने आकांक्षा को ससुराल में प्रताड़ित किए जाने की बात कही। समधी के यह शब्द सुन कर विजय हैरान रह गए थे।

उनके मुताबिक केवल तीन दिन ही आकांक्षा ससुराल में रुकी थी। इस दौरान उसने पत्नी धर्म का निर्वाहन नहीं किया था। इतने कम वक्त में उसे प्रताड़ित किए जाने की निराधार है। विजय के मुताबिक किसी तरह उनकी आकांक्षा से फोन पर बात हुई थी। तब बहू ने कहा था कि मुझे ग्रेटर नोएडा में ही एक फ्लैट दिला दो। जिसकी कीमत डेढ़ करोड़ रुपये है। इतना महंगा फ्लैट दिलाने में विजय सक्षम नहीं थे।

उन्होंने यह बात मानने से मना कर दिया था। जिसके जवाब में आकांक्षा ने विजय और उनके परिवार पर दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज कराने की बात कही थी। रिश्तेदारों की मदद से सम्पर्क किए जाने पर आकांक्षा और उसके पिता ने शादी तोड़ने की बात कहते हुए 40 लाख रुपये मांगे थे। इंस्पेक्टर कृष्णानगर आलोक राय के मुताबिक विजय की तहरीर पर सुनील कुमार, उसकी बेटी कीर्ति वर्मा, आनन्द वर्मा, शैलेश वर्मा और संतोष बंसल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

बेटे की दो बार शादी कर वसूले रुपये
विजय के मुताबिक गलत लोगों के चंगुल में फंसने पर उन्होंने सुनील कुमार के परिवार में छानबीन की थी। इस दौरान पता चला कि सुनील ने बेटे अभिषेक की शादी नई दिल्ली पश्चिम विहार निवासी स्निगधा तलवार से की थी। जिनसे दहेज में 35 लाख, कार और आभूषण लिए थे। बदनियती के चलते अभिषेक पत्नी को प्रताड़ित करता था। फिर आरोपी ने स्निगधा से शादी तोड़ दी थी। इसके बाद सुनील ने बेटे का दूसरी बार विवाह मप्र ग्वालियर निवासी प्रेम सिंह की बेटी पल्लवी से की थी। इन लोगों से भी रुपये और गहने ऐंठे गए थे। विजय के मुताबिक पल्लवी को भी अभिषेक ने तीन महीने बाद ही छोड़ दिया था।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news