उप्र : छत ढहने से परिवार के पांच सदस्यों की मौत

उप्र : छत ढहने से परिवार के पांच सदस्यों की मौत

मिजार्पुर में एक किराए के मकान की छत ढह जाने से एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई है। यह घटना कोतवाली पुलिस सर्कल के तहत आने वाली छोटी गुडकरी इलाके की है। मृतकों में एक दंपति और उनके दो बेटे और एक बेटी शामिल हैं।

मिजार्पुर में एक किराए के मकान की छत ढह जाने से एक ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई है। यह घटना कोतवाली पुलिस सर्कल के तहत आने वाली छोटी गुडकरी इलाके की है। मृतकों में एक दंपति और उनके दो बेटे और एक बेटी शामिल हैं।

घटनास्थल पर बचाव कार्य की निगरानी कर रहे मिजार्पुर के जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्सर और एसपी अजय कुमार सिंह ने कहा, "बचाव दल में पुलिस और अग्निशमन विभाग के कार्यकर्ता शामिल हैं। मौके से शुभम 22 साल, सौरभ 18, संध्या 20 और उनकी मां गुड़िया 48 साल के शवों को बरामद किया गया। घंटों बाद बच्चों के पिता उमा शंकर 50 साल के शव की बरामदगी हुई। मलबे से निकालकर इन शवों को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया है।"

एडीएम (वित्त और राजस्व) यू.पी. सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन ने प्रत्येक मृत व्यक्ति के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से दो लाख रुपये की वित्तीय सहायता दी है।

अधिकारियों ने कहा कि गुरुवार सुबह हुई इस घटना के बचाव कार्य में कई घंटे लग गए क्योंकि दो मंजिला इस इमारत की छत को और नुकसान न पहुंचे इसलिए मलबों को हाथों से ही हटाना पड़ा।

शुरुआती जांच से पता चला कि आशुतोष रंजन मकान मालिक हैं, जिन्होंने अपने घर के कुछ हिस्सों को किराए पर दे रखा था।

उमा शंकर ने मकान में एक कमरा किराए पर ले रखा था, जिसमें वह अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ रहता था। उनकी सबसे बड़ी बेटी सपना अपने नाना-नानी के साथ रहती है।

उमा शंकर के भाई दया शंकर और उनका परिवार उसी घर के दूसरे हिस्से में रहते हैं।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news