उत्तर प्रदेश के प्रमुख शहरों में सरकार शुरू करेगी हेलीपोर्ट और रोपवे सेवा

आगरा, मथुरा, लखनऊ और प्रयागराज में हेलीपोर्ट सेवा शुरू करेगी तो विंध्याचल, चित्रकूट के बाद अब बरसाना और प्रयागराज में रोपवे सेवा शुरू होगी।
उत्तर प्रदेश के प्रमुख शहरों में सरकार शुरू करेगी हेलीपोर्ट और रोपवे सेवा

उत्तर प्रदेश के प्रमुख शहरों के लिए सरकार हेलीपोर्ट सेवा शुरू कर रही है। कई जगह रोपवे का निर्माण भी कराएगी। इसके लिए यूपी सरकार ने मुकम्मल कार्ययोजना तैयार कर ली है।

आगरा, मथुरा, लखनऊ और प्रयागराज में हेलीपोर्ट सेवा शुरू करेगी तो विंध्याचल, चित्रकूट के बाद अब बरसाना और प्रयागराज में रोपवे सेवा शुरू होगी।

अगले छह महीने में आगरा और मथुरा में हेलीपोर्ट सेवा शुरू करने की कार्रवाई शुरू होगी। इसके संचालन के लिए पब्लिक, प्राइवेट पार्टनर (पीपीपी) का चयन हो जाएगा। अगले दो साल में प्रदेश की राजधानी और नवाबों के शहर लखनऊ, तीर्थराज प्रयाग में भी हेलीपोर्ट सेवा शुरू करने का लक्ष्य है।

वर्ष 2025 में आयोजित होने वाले कुंभ को आसमान से देखने का मौका मिल सकता है। ऊपर से अनंत नीला आसमान, नीचे अपने पसंदीदा शहर और पर्यटन स्थल का मनमोहक मंजर देखने को मिलेगा। चंद मिनट के लिए ही सही लोगों को भरपूर खुशियां मिलेगीं। यहां से दिखने वाला नजारा सबके दिल-ओ-दिमाग पर हरदम के लिए अमिट छाप बन जाएगी।

आसमान से ही विंध्य और चित्रकूट की प्राकृतिक खूबसूरती दिखने लगेगी। हालांकि, रोपवे सेवा शुरू की जा चुकी है। विंध्याचल में अष्टभुजा एवं कालीखोह रोपवे का संचालन पिछले साल अगस्त और चित्रकूट रोपवे का संचालन सितंबर 2019 से ही शुरू है।

अगले छह महीने में राधा-कृष्ण और कृष्ण एवं ग्वाल-बालों की क्रीड़ा स्थली ब्रजभूमि के दर्शन के लिए मथुरा में बरसाना का रोपवे भी चालू हो जाएगा। दो वर्ष में प्रयागराज में झूंसी से त्रिवेणी पुष्प तक नए रोपवे का निर्माण कार्य शुरू करने का लक्ष्य है।

पर्यटन के प्रमुख सचिव मुकेश मेश्राम का कहना है कि यूपी को मजबूत ब्रांड बनाने और स्थानीय स्तर पर रोजगार एवं राजस्व में वृद्धि का सबसे प्रभावी जरिया पर्यटन है। यहां असीम संभावनाएं है। मुख्यमंत्री योगी की मंशा है कि अपनी सम्पन्न विरासत के आधार पर प्रदेश को देश-दुनिया का सबसे पसंदीदा पर्यटन स्थल बनाया जाये। विभाग उसी पर काम कर रहा है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.