कोविड के समय आईआईटी कानपुर ने जरूरतमंद छात्रों के लिए फंड बनाया

आईआईटी कानपुर ने मेडिकल आपात स्थिति का सामना कर रहे छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए लगभग 650 योगदानकतार्ओं से एक करोड़ रुपये से अधिक की राशि जुटाई है।
कोविड के समय आईआईटी कानपुर ने जरूरतमंद छात्रों के लिए फंड बनाया

आईआईटी कानपुर ने मेडिकल आपात स्थिति का सामना कर रहे छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए लगभग 650 योगदानकतार्ओं से एक करोड़ रुपये से अधिक की राशि जुटाई है।

आईआईटी कानपुर के अधिकारियों से संपर्क करने वाले कुछ छात्रों को अपने परिवार के सदस्यों के इलाज के लिए पैसे की जरूरत थी।

आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रोफेसर अभय करंदीकर के अनुसार, '' इसकी पहल 1 मई को शुरू की गई थी, लेकिन इसके लिए पोर्टल 5 मई को लॉन्च किया गया था। छात्र पोर्टल पर अपने अनुरोध भेज सकते हैं।''

उन्होंने कहा, हमें छात्रों से मदद के लिए अनुरोध मिल रहे थे और इसलिए हमने एक राहत कोष स्थापित करने का फैसला किया। हमारा लक्ष्य पांच करोड़ रुपये जुटाना है।

उन्होंने समझाया कि आईआईटी कानपुर में 8,300 से अधिक छात्र हैं और 500 को भी एक-एक लाख रुपये की वित्तीय मदद की जरूरत है, ऐसे में हमें पांच करोड़ रुपये के कॉर्पस फंड की जरूरत है।

आईआईटी कानपुर के निदेशक ने कहा कि वह सोशल मीडिया के माध्यम से पूर्व छात्रों और शुभचिंतकों तक पहुंचे थे और प्रतिक्रिया जबरदस्त थी।

आईआईटी कानपुर ने प्रत्येक अनुरोध का मूल्यांकन करने और लाभार्थियों पर निर्णय लेने के लिए डीन छात्रों के मामलों और संसाधन और पूर्व छात्रों के डीन, छात्र अध्यक्ष और पूर्व छात्र समुदाय के दो प्रतिनिधियों की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया है।

अनुरोधों की समीक्षा करने के लिए समिति वस्तुत: बैठक करेगी। अपील पर निर्णय के बारे में तब आवेदकों को सूचित किया जाएगा और बाद में उन्हें धनराशि हस्तांतरित कर दी जाएगी।

आईआईटी कानपुर के निदेशक ने कहा कि महामारी की दूसरी लहर ने छात्रों और उनके परिवारों को भारी वित्तीय संकट पैदा कर दिया है।

उन्होंने कहा कोविड से संबंधित स्वास्थ्य मुद्दों के लिए अल्प सूचना पर बड़ी रकम की आवश्यकता हो सकती है और कई लोगों के लिए अल्प सूचना पर इसकी व्यवस्था करना मुश्किल हो सकता है।''

उन्होंने कहा इस फंड का उद्देश्य दवा, भोजन और ऐसे अन्य मुद्दों के लिए तत्काल सहायता प्रदान करना है।''

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news