लखनऊ: 'मां से इस तरह लिपट जाऊं कि बच्चा हो जाऊं', मुनव्वर राना ने शेयर की सीएम योगी की मां के साथ तस्वीर

यूपी में दोबारा मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ 3 मई को तीन दिवसीय उत्तराखंड दौरे पर गए। इसी दिन उन्होंने अपने गांव पंचूर में पहुंचकर मां से मुलाकात की। मां से मिलते अपनी तस्वीर उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की तो वह वायरल हो गई।
लखनऊ: 'मां से इस तरह लिपट जाऊं कि बच्चा हो जाऊं', मुनव्वर राना ने शेयर की सीएम योगी की मां के साथ तस्वीर

'मेरी ख्वाहिश है कि मैं फिर से फरिश्ता हो जाऊं, मां से इस तरह लिपट जाऊं कि बच्चा हो जाऊं।' मां पर अपनी शायरी के लिए विख्यात शायर मुनव्वर राना ने यह शायरी सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए लिखी है। जी हां, आपने सही पढ़ा है। मुनव्वर राना ने सीएम योगी आदित्यनाथ के अपनी माताजी से मुलाकात की तस्वीरों के साथ इस शायरी को लिखकर बड़ा संदेश दिया है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान योगी के दोबारा सीएम बनने पर यूपी छोड़ने के बयानों से खासे चर्चित रहे मुनव्वर राना की इस शायरी के अलग मायने-मतलब निकाले जा रहे हैं।

यूपी में दोबारा मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ 3 मई को तीन दिवसीय उत्तराखंड दौरे पर गए। इसी दिन उन्होंने अपने गांव पंचूर में पहुंचकर मां से मुलाकात की। मां से मिलते अपनी तस्वीर उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की तो वह वायरल हो गई। इसी तस्वीर के आधार पर मुनव्वर राना ने अपनी शायरी की रचना की है। मां को लेकर मुनव्वर राना के शेर खासे चर्चित रहे हैं। 'किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकां आई, मैं घर में सब से छोटा था मेरे हिस्से में मां आई' जैसी कालजयी शायरी के रचयिता का योगी की मां से मुलाकात पर यह शेर अब इंटरनेट पर खासा वायरल हो गया है।

चुनाव के समय में दिखा था अलग रूप

सौम्य छवि के मुनव्वर राना ने यूपी चुनाव 2022 के दौरान योगी आदित्यनाथ और भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। उन्होंने कहा था कि अगर योगी आदित्यनाथ दोबारा प्रदेश के मुख्यमंत्री बनते हैं तो वे यूपी छोड़ देंगे। मुनव्वर ने कहा था कि अपनी मिट्‌टी को छोड़ना दुख तो देगा, लेकिन जब घोसला खतरे में हो तो चिड़ियां भी अपना आशियाना छोड़ जाती है। उन्होंने कहा था कि सत्ता के लोग फरिश्ता बनकर अब निकल पड़े हैं। उनको याद नहीं कि जात-पात के नाम पर क्या जादातियां की? कोरोना में कितने लोग मरे, कितने लोग पैदल गुजरते मर गए, सब भुला दिया गया। इस चुनाव सबका हिसाब होगा। हालांकि, यूपी चुनाव में भाजपा की जीत के बाद उन्होंने इस मामले पर चुप्पी साध ली थी।

सोशल मीडिया पर होने लगा सवाल

मुनव्वर राना का सीएम योगी आदित्यनाथ पर ट्वीट आते ही वायरल हो गया। सोशल मीडिया पर लोग उन्हें बेहतरीन शायरी के लिए बधाई देते दिखे। वहीं, ट्रोलरों ने भी जमकर सवाल किए। एक यूजर नीलेश पांडेय ने लिखा, आप प्यार फैलाएं, आपको प्यार मिलेगा। एक यूजर दिलीप पंचोली ने शायरी में ही लिखा, 'मेरी ख्वाइश है कि मैं फिर से डेढ़ स्याणा हो जाऊं, यूपी छोड़ दूंगा कहकर फिर से योगी की चापलूसी में राणा हो जाउं'। मंजू सिंह ने लिखा, अपनी बात के पक्के नहीं हैं आप, यूपी को छोड़ा नहीं आपने।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.