प्रियंका यूपी चुनाव को लेकर गंभीर ,अब लखनऊ में रहेगा डेरा, सप्ताहांत जाएंगी दिल्ली

उत्तर प्रदेश में अपने मिशन विधानसभा चुनाव-2022 को लेकर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी बहुत ज्यादा गंभीर हैं और इसके लिए उन्होंने अपना मास्टर प्लान भी बना लिया है।
प्रियंका यूपी चुनाव को लेकर गंभीर ,अब लखनऊ में रहेगा डेरा, सप्ताहांत जाएंगी दिल्ली

उत्तर प्रदेश में अपने मिशन विधानसभा चुनाव-2022 को लेकर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी बहुत ज्यादा गंभीर हैं और इसके लिए उन्होंने अपना मास्टर प्लान भी बना लिया है।

उन्होंने तय किया है कि वह अब सोमवार से शुक्रवार तक उत्तर प्रदेश में रहेंगी। सिर्फ सप्ताहांत यानी शनिवार और रविवार को दिल्ली में रहेंगी।

विधानसभा चुनाव को लेकर वह लखनऊ में अधिकांश समय देने के साथ ही प्रदेश का भ्रमण भी करेंगी। कांग्रेस एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि यूपी के लिए बेहद गंभीर हो चुकीं प्रियंका ने अब खुद ही जमीनी हकीकत जानने का फैसला किया है।

उन्होंने तय कर लिया है कि अब वह हर हफ्ते में सोमवार से शुक्रवार तक लखनऊ में रहेंगी। इस दौरान वह प्रदेश के किसी अन्य जिले में भी प्रवास कर सकती है। अब वह सिर्फ शनिवार व रविवार को दिल्ली में अपने परिवार को समय देंगी।

कांग्रेस महासचिव ने अब अपना सारा प्लान तैयार कर लिया है। इसी के तहत 10 अक्टूबर को प्रियंका वाराणसी में एक रैली करेंगी। इसके साथ ही प्रदेश भर में 7 अक्टूबर से कांग्रेस की प्रतिज्ञा यात्रा शुरू होगी। प्रतिज्ञा यात्रा प्रदेश में चार अलग-अलग जगह से बस से निकाली जायेगी। यात्रा का समापन नवंबर में लखनऊ में होगा।

कांग्रेस ने नवंबर में लखनऊ में एक बड़ी रैली की भी योजना तैयार की है। इस रैली में देश के बड़े नेता भी शामिल होंगे। यह सभी कार्यक्रम प्रियंका के नेतृत्व में ही होंगे। इस बीच, प्रियंका ने अपने प्रवास के चौथे दिन भी कई बैठकें की। उन्होंने निषाद समाज के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं पर विस्तार से चर्चा की और नदी अधिकार यात्रा पर भी बात की। भरोसा दिलाया कि कांग्रेस पार्टी निषाद समाज के खनन, मछली पालन, आरक्षण सहित अनेक मांगों के साथ मजबूती से खड़ी है।

प्रियंका ने यूपी कांग्रेस के सोशल मीडिया विभाग के योद्धाओं से संवाद किया। प्रियंका ने कहा कि सोशल मीडिया के योद्धा पूरी ताकत से भाजपा सरकार के झूठ का पदार्फाश कर रहे हैं और उनकी दमदार व ऊर्जावान उपस्थिति से उप्र में कांग्रेस पार्टी बदलाव की एक महत्वपूर्ण आवाज बनकर उभर रही है। इसके अलावा उन्होंने स्क्रीनिंग कमेटी की भी बैठक में हिस्सा लिया जिसमे संभावित प्रत्याशियों पर चर्चा हुई।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.