यूपी की राजधानी के 21 श्मशान घाटों व 40 से अधिक कब्रिस्तानों का हुआ सैनीटाइजेशन

यूपी की राजधानी के 21 श्मशान घाटों व 40 से अधिक कब्रिस्तानों का हुआ सैनीटाइजेशन

यूपी की राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए प्रदेश भर के श्मशान घाट व कब्रिस्तानों को सैनीटाइज किए जाने के निर्देश प्रदेश सरकार की ओर से दिए गए हैं।

यूपी की राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए प्रदेश भर के श्मशान घाट व कब्रिस्तानों को सैनीटाइज किए जाने के निर्देश प्रदेश सरकार की ओर से दिए गए हैं।

इस कड़ी में नगर निगम लखनऊ द्वारा गुरूवार को शहर के शमशान घाट, कब्रिस्तानों व सिमेट्री में बड़े पैमाने पर सेनीटाइजेशन अभियान चलाया गया। इस दौरान कब्रिस्तान में काम करने वालों लोगों को नगर निगम की ओर से पीपीटी किट व सुरक्षा से जुड़ी अन्य चीजें भी उपलब्ध कराई गईं।

नगर आयुक्त अजय द्विवेदी ने बताया कि संक्रमित शवों से संक्रमण रोकने के लिए इस मुहिम की शुरूआत की गई है। बताया कि नगर निगम पिछले कई दिनों से बड़े पैमाने पर शहर के अलग-अलग स्थानों पर युद्धस्तर पर सैनीटाइजेशन अभियान चला रहा है।

इसके अलावा शहर के छोटे-बड़े कंटेनमेंट जोन भी लगातार सैनीटाइज किए जा रहे हैं, ताकि संक्रमण की रफ्तार को रोका जा सके।

नगर आयुक्त अजय द्विवेदी ने बताया कि सैनीटाइजेशन के काम में पीएसी, जल निगम व वन विभाग के टैंकरों के साथ 400 से अधिक हैंड हेल्ड मशीनों को लगाया गया है। इस अभियान में अभी और तेजी लाई जाएगी।

उन्होंने बताया कि गुरूवार को नगर निगम की सीमा में आने वाले छोटे-बड़े श्मशान स्थलों/घाटों, मुस्लिम एवं इसाई कब्रिस्तानों, जहां पर कोविड-19 के कारण असमय काल-कलवित हुए नागरिकों का अंतिम संस्कार किया जाता है।

उनको सैनीटाइज करने के लिए विशेष अभियान चलाया गया। नगर आयुक्त ने बताया कि इस अभियान में 40 ट्रैक्टर/ट्रक माउन्टेड स्प्रे मशीनों के जरिए शहर के 21 शमशान स्थलों/घाटों जिसमें भैंसा कुण्ड, गुलाला घाट, मोती झील, तेली बाग, वीआईपी रोड, सुगामऊ, पल्टन छावनी, आईआईएम रोड को सैनीटाइज किया गया।

इसके अलावा 42 मुस्लिम कब्रिस्तानों जिसमें उजरियांव, लोहिया पार्क के पास, ऐशबाग, विशाल खण्ड, सुप्पा कब्रिस्तान, मीना बेकरी के पास, कैम्पवेल रोड, ठाकुरगंज, पहाडपुर, फैजुल्लागंज ईदगाह के पीछे, तातरपुर, माल एवेन्यू, लवकुश नगर, खुर्रम नगर व तकरोही स्थित कब्रिस्तान को सैनीटाइज किया गया, जबकि निशातगंज, माल एवेन्यू स्थित 3 इसाई कब्रिस्तानों को भी सैनीटाइज करने का काम किया गया।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news