बाराबंकी: पेट्रोल पंपों में लिए जा रहे मिलावटी तेल तथा घटतौली के संबंध में चलाया गया विशेष जांच अभियान

इसके निर्देशों के तहत प्रत्येक तहसील के लिये सम्बन्धित उप जिलाधिकारी के नेतृत्व मे पुलिस उपाधीक्षक, आपूर्ति निरीक्षक, वरिष्ठ बाट‌- माप निरीक्षक, ऑयल मार्केटिंग कम्पनी के अधिकारी एवं OEM के इन्जिनियर / तकनीकी सहायको की टीम बनायी गयी है।
बाराबंकी: पेट्रोल पंपों में लिए जा रहे मिलावटी तेल तथा घटतौली के संबंध में चलाया गया विशेष जांच अभियान

शासन को पेट्रोल पम्पों से आपूर्ति किये जा रहे HSD/MS की मात्रा मे घटतौली किये जाने की शिकायत को गम्भीरता से लेते हुए दिनांक 20/04/2022 की सायं कार्यालय ज्ञाप निर्गत किया है।

इसके निर्देशों के तहत प्रत्येक तहसील के लिये सम्बन्धित उप जिलाधिकारी के नेतृत्व मे पुलिस उपाधीक्षक,आपूर्ति निरीक्षक, वरिष्ठ बाट‌- माप निरीक्षक ,ऑयल मार्केटिंग कम्पनी के अधिकारी एवं OEM के इन्जिनियर/तकनीकी सहायको की टीम बनायी गयी है ।

जांच टीम ने तहसील सदर से अपने जांच अभियान की शुरूआत की जिसका नेतृत्व जिला पूर्ति अधिकारी राकेश कुमार तिवारी द्वारा किया गया। जांच टीम द्वारा बाराबंकी के तीन पेट्रोल पम्पों की जांच की गयी । जिसका विवरण निम्नवत है :-

1- श्रीवास्तव फीलिंग स्टेशन आलापुर ।

2- स्वास्तिक ट्रेडर्स नवाबगंज ।

3 - सद्गुरू फीलिंग ‌स्टेशन बड़ेल।

क- वरिष्ठ निरीक्षक बांट-माप द्वारा पांच लीटर के मानक माप से सभी नो दलों की डिलीवरी का परीक्षण किया गया । परीक्षण मे कोई विसंगति नही पायी गयी ।

ख- ऑयल कम्पनी के विक्रय प्रबन्धक द्वारा पेट्रोल एवं डीजल का घनत्व परीक्षण किया गया ।घनत्व मे अन्तर अनुमन्य सीमा के अन्तर्गत पाया गया ।

ग- OEM के इन्जिनियर/तकनीशियन द्वारा रिटेल आउटलेट पर स्थापित डिसपेन्सिंग यूनिटों का तकनीकी परीक्षण किया गया ।तकनीशियन की रिपोर्ट के अनुसार डिसपेन्सिंग यूनिट मे कोई अतिरिक्त अवस्थापना/ इलेक्ट्रानिक घटतौली का कोई उपकरण नही पाया गया।

(जिला पूर्ति अधिकारी के अनुसार शासन के आदेश अनुरूप वह समस्त कार्यवाही की जायेगी जिससे जनता को पूरी मात्रा मे पेट्रोल और डीजल प्राप्त हो सके ‌। घटतौली के विरूद्ध अभियान चलता रहेगा)

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2017 में भी जांच अभियान चला था जिसमे अनेक पेट्रोल पम्पों के विरूद्ध कार्यवाही की गयी थी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.