मेरठ: 12वीं की परीक्षा में नंबर कम आए तो थाना प्रभारी की बेटी ने आत्महत्या की

12वीं कक्षा की परीक्षा में कम नंबर आने के बाद लड़की ने अपने घर के एक कमरे में खुद को बंद कर लिया था।
मेरठ: 12वीं की परीक्षा में नंबर कम आए तो थाना प्रभारी की बेटी ने आत्महत्या की

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में बोर्ड परीक्षा परिणाम घोषित होने के एक दिन बाद सहारनपुर जिले के बड़गांव थाना मे एसएचओ पद पर तैनात शोबिर नागर की 16 वर्षीय बेटी का रस्सी से लटका शव मिला।

12वीं कक्षा की परीक्षा में कम नंबर आने के बाद लड़की ने अपने घर के एक कमरे में खुद को बंद कर लिया था।

परिवार के सदस्यों ने बताया कि कशिश नाम की लड़की परीक्षा में कम नंबर आने के बाद काफी परेशान थी। वह बार-बार कह रही थी कि मैंने इन परीक्षा के लिए काफी मेहनत की थी, लेकिन मेरा रिजल्ट अच्छा नहीं आया।

जिसके बाद कशिश ने अपने पिता शोबिर नागर को भी कॉल किया था। उन्होंने अपनी बेटी को समझाया कि परेशान होने की कोई आवश्यकता नहीं है, जिस विषय में नंबर कम लग रहे हैं, उसमें स्क्रूटनी का फार्म भर देंगे।

पिता के समझाने के बाद भी छात्रा परेशान थी और शुक्रवार शाम को लड़की ने अपने घर के एक कमरे में खुद को बंद कर लिया।

उसके परिवार के सदस्यों ने सोचा कि उसे दुख से उबरने के लिए समय चाहिए और उसे अकेला छोड़ दिया।

लड़की के भाई ने 1 घंटे बाद कमरे का दरवाजा खटखटाया और अंदर से कोई जवाब नहीं मिलने पर लड़की के भाई और परिवार के अन्य सदस्यों ने दरवाजा तोड़ा और लड़की को फंदे से लटका हुआ पाया।

कंकरखेड़ा थाना प्रभारी (एसएचओ) सुबोध कुमार सक्सेना ने बताया कि सहारनपुर जिले के बड़गांव थाना मे एसएचओ पद पर तैनात शोबिर नागर की बेटी योगीपुरम कॉलोनी में अपने परिवार के साथ रहती थी।

परीक्षा में कम नंबर आने के बाद उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया और घातक कदम उठाने पर मजबूर हो गई। आगे की कार्रवाई के लिए परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया जिसके बाद शनिवार सुबह परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news