उन्नाव में दो किशोरियों की हत्या से पर्दा उठा, एकतरफा प्यार में हुई घटना, दो गिरफ्तार

उन्नाव में दो किशोरियों की हत्या से पर्दा उठा, एकतरफा प्यार में हुई घटना, दो गिरफ्तार

यूपी पुलिस ने शुक्रवार शाम प्रेस कांफ्रेंस कर दावा किया कि एकतरफा प्यार में वारदात को अंजाम दिया गया। इस घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें एक राम विनय है, जबकि दूसरा आरोपित नाबालिग है।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव स्थित असोहा क्षेत्र में बुआ-भतीजी की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत पर से पर्दा उठ गया है।

यूपी पुलिस ने शुक्रवार शाम प्रेस कांफ्रेंस कर दावा किया कि एकतरफा प्यार में वारदात को अंजाम दिया गया। इस घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें एक राम विनय है, जबकि दूसरा आरोपित नाबालिग है।

गेहूं में रखने वाली दवा तीनों किशोरियों को खिलाई गई थी, जिसमें दो की मौत गई और एक का इलाज कानपुर में चल रहा है। लखनऊ आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने बताया कि तीनों की कीटनाशक पिलाकर हत्या की गई।

उन्होंने बताया कि आरोपी विनय ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। पूछताछ के दौरान उसने पुलिस को बताया कि वह तीनों में से एक लड़की से एकतरफा मोहब्बत करता था। लड़की के इनकार करने पर विनय को ये बात सहन नहीं हुई।

उसने पानी की बोतल में कीटनाशक मिलाकर उसे पिलाया। अन्य दोनों बहनों ने भी वो कीटनाशक पी लिया। जिसे उनकी मौत हो गई। तीनों लड़कियां दोनों आरोपी लड़कों को जानती थीं। आरोपियों ने उन्हें गेहूं में रखने वाली कीटनाशक पिलाई थी।

आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने बताया कि घटना के बाद मुखबिर की सूचना पर कुछ लोगों को उठाकर उनसे पूछताछ की जा रही थी। इसी दौरान दोनों बच्चियों के अंतिम संस्कार के बाद जब डॉग स्क्वाड को घटना स्थल पर ले जाया गया तो वह वहां से गांव की एक दुकान पर पहुंचा।

आईजी लक्ष्मी सिंह ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि मृतक लड़कियों के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से पांच लाख और घायल किशोरी को दो लाख दिया जाएगा।

फोरेंसिक ने दुकान से सभी नमकीन और चिप्स को जांच के लिए कब्जे में लिया। पूछताछ के दौरान दुकानदार ने बताया कि घटना से पहले लड़कियां उसकी दुकान से नमकीन खरीदने आईं थी। पुलिस को जांच के दौरान खेत से भी एक नमकीन का पैकट मिला था। एक के बाद एक मिले सुरागों के जरिए पुलिस विनय तक पहुंच गई।

पूछताछ के दौरान विनय ने बताया कि वह जिससे प्यार करता था, उससे बात करने के लिए फोन नंबर मांग रहा था। लड़की के कई बार मना करने पर यह बात उसे बर्दाशत नहीं हुई। जिसके बाद गुस्से में उसने ऐसा कदम उठाया।

गौरतलब है कि चचेरी बहन रोशनी की हालत नाजुक है। उसका इलाज कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में चल रहा है। काजल के पिता ने घटना के 18 घंटे बाद गुरुवार को असोहा थाने में हत्या की शिकायत दर्ज कराई थी।

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर कुछ लोगों को हिरासत में लिया था। वहीं दोनों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में पॉइजनिंग की पुष्टि हुई थी।

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news