नड्डा के पत्र पर यूपी कांग्रेस प्रमुख का योगी सरकार पर हमला

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू ने न केवल कोविड महामारी के प्रबंधन पर राज्य सरकार के दावों को खोखला बताया, बल्कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर सही आंकडे ना बताने का भी आरोप लगाया।
नड्डा के पत्र पर यूपी कांग्रेस प्रमुख का योगी सरकार पर हमला

भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा द्वारा कांग्रेस के अंतरिम प्रमुख सोनिया गांधी को पत्र लिखे जाने के एक दिन बाद, कांग्रेस नेताओं द्वारा अनुचित बयानों पर आपत्ति जताते हुए, उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने राज्य में योगी आदित्यनाथ सरकार पर हमला किया है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लल्लू ने न केवल कोविड महामारी के प्रबंधन पर राज्य सरकार के दावों को खोखला बताया, बल्कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर सही आंकडे ना बताने का भी आरोप लगाया।

उन्होंने योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की कोविड प्रबंधन की सराहना के स्पष्ट संदर्भ में कहा '' राज्य में लाशों का टॉवर बन गया है। राज्य में ना टीके है ना ही ऑक्सीजन। सरकार की शिथिलता के कारण, लाशों की एक मीनार (टॉवर) बन गई है, और यहां तारीफें हो रही है । ''

कांग्रेस नेता ने कहा, '' रक्षा मंत्री, जो आंकड़ों की धज्जियां उड़ाने में लिप्त मुख्यमंत्री की प्रशंसा कर रहे हैं, अपने स्वयं के संसदीय क्षेत्र लखनऊ और राज्य के अन्य हिस्सों में झांकियों से आग की लपटों को नहीं देख सकते हैं। ''

उन्होंने कहा कि सिंह ने मुख्यमंत्री की प्रशंसा करते हुए संवेदनशीलता की कमी दिखाई।

उन्होंने कहा, '' इससे पहले, राजनाथ सिंह ने दावा किया था कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने उत्तर प्रदेश सरकार के कार्यों की प्रशंसा की है। 'यह कोई छोटी बात नहीं है'। ''

इस बीच, राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने लल्लू के बयान को गैर जिम्मेदाराना करार दिया।

उन्होंने कहा, '' कांग्रेस के नेता टीके के बारे में भ्रम फैलाते हैं और अन्य बार वे गांवों में सरकार के परीक्षण अभियान पर सवाल उठाते हैं। कांग्रेस नेताओं के गैर जिम्मेदाराना बयानों के कारण जनता भ्रमित हो रही है। ''

दूसरी ओर, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि राज्य सरकार को स्थिति की भयावहता को स्वीकार करना बाकी है।

अखिलेश ने कहा, '' जिस तरह से कोरोना वायरस ने उत्तर प्रदेश के गांवों को प्रभावित किया है वह चिंताजनक है। दवाओं, ऑक्सीजन और उपचार की कमी के कारण लोगों की जान जोखिम में है। भाजपा सरकार अभी भी स्थिति की भयावहता को स्वीकार नहीं कर रही है।''

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में मौतों के बारे में सच्चाई को झूठ के माध्यम से छिपाया नहीं जा सकता।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news