यूपी के ऊर्जा मंत्री ने ब्रजवासियों संग खेली होली

यूपी के ऊर्जा मंत्री ने ब्रजवासियों संग खेली होली

उत्तर प्रदश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने मथुरा-वृंदावन स्थित अपने आवास पर होली मिलन कार्यक्रम के दौरान देश व प्रदेश के लोगों को ब्रजवासियों की ओर से होली की शुभकामनाएं दीं।

उत्तर प्रदश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने मथुरा-वृंदावन स्थित अपने आवास पर होली मिलन कार्यक्रम के दौरान देश व प्रदेश के लोगों को ब्रजवासियों की ओर से होली की शुभकामनाएं दीं।

ऊर्जा मंत्री ने कहा, "हम सौभाग्यशाली हैं कि ब्रज में जन्म लेकर कान्हा की जन्मस्थली और लीलास्थली की सेवा का अवसर मिला। उन्होंने ब्रजबंधुओं को ब्रज चौरासी कोस के पुरातन स्वरूप को लौटाने के लिए पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण, मंदिरों और कुंडों के जीर्णोद्धार, घाटों के सौंदर्यीकरण और यमुना के शुद्धिकरण के लिए चल रही और पूरी हो चुकी परियोजनाओं की जानकारी दी।"

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि वृंदावन में 40 दिन तक चले अब तक के सबसे भव्य और सुरक्षित कुंभ के सफल आयोजन ने होली के उत्साह को दोगुना कर दिया है। आगे भी हमें अपने और दूसरों के स्वास्थ्य की सुरक्षा को लेकर सतर्क रहना है।

मंत्री ने कहा कि यमुना से सटे 190 एकड़ कुंभ क्षेत्र का संरक्षण अप्रैल में पूरा हो जाएगा। 1350 एकड़ वन भूमि और यमुना के दोनों किनारों पर फलदार वृक्ष लगाए जा रहे हैं। 350 छोटे बड़े कुंड में जल छोड़ने व सु²ढ़ीकरण के कार्य किए जा रहे हैं। शहर में 450 एकड़ का सुनरख में सौभरि वन विकसित किया जा रहा है।

भगवान कृष्ण और मां राधारानी की ब्रजवासियों के साथ खेली गई होली के प्रतीक गुलाल कुंड के सु²ढ़ीकरण का कार्य छह महीने के अंदर पूरा हो जाएगा।

वृंदावन और गिरिराज जी के परिक्रमा मार्ग को नंगे पैर चलने वाले श्रद्धालुओं के अनुकूल विकसित किया गया है।

उन्होंने कहा कि यमुना में गिरने वाले 35 नालों को बंद करने का कार्य वित्तवर्ष 2021-22 में पूरा हो जाएगा। वृंदावन में 11 नालों की टैपिंग पूरी हो चुकी है। मथुरा के 20 नालों को बंद करने का काम जून 21 में पूरा हो जाएगा।

शहरवासियों के लिए जुबली पार्क से सटे व्यस्त बाजारों में मल्टी लेवल पार्किं ग और मनोरंजन के लिए ओपन थिएटर भी तैयार है।

शहर में सर्वसुविधायुक्त 153 एकड़ में फैले जवाहर बाग का उपहार मिलने के बाद 150 अन्य पार्कों का कार्य भी पूरा होगा। पर्यटन योजना के तहत वृंदावन की 22 गलियों का कार्य हुआ। 23 अन्य कुंज गलियों के विकास पर भी कार्य शुरू होगा। 23.5 करोड़ रुपये की लागत से श्रीकृष्ण जन्मभूमि में रासलीला मंच, कृष्णलीला के डिजिटल मंचन, पार्क, प्रमुख मार्ग का निर्माण भी इस वर्ष पूरा हो जाएगा।

खारे पानी से आमजन को निजात के लिए पहली बार गंगाजल का 25 एमएलडी पानी रोज मिल रहा है। फिलहाल, मथुरा-वृंदावन की 2.5 लाख आबादी को शुद्ध गंगाजल मिल रहा है। 3 करोड़ 35 लाख की लागत से मोक्ष धाम भी बनकर तैयार हो गया है। साधु-समाधि, गौ-समाधि की जगह निर्धारित की गई है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news