उत्तर प्रदेश सरकार ने जब्त की विकास दुबे और उनके रिश्तेदारों की संपत्ति

विकास दुबे और उसके साथियों ने 3 जुलाई, 2020 को आठ पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी थी, जब पुलिसकर्मी कथित तौर पर एक मामले में उन्हें गिरफ्तार करने गए थे।
उत्तर प्रदेश सरकार ने जब्त की विकास दुबे और उनके रिश्तेदारों की संपत्ति

उत्तर प्रदेश सरकार ने मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे और उनके रिश्तेदारों की 67 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की है। इन संपत्तियों को कुर्क करने के आदेश जिलाधिकारी की अदालत ने जारी किए हैं।

कुर्क की गई 13 अचल और 10 चल संपत्तियां विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे, उनकी मां सरला दुबे और दो बेटों आकाश और शानू के नाम हैं। संपत्तियां बिकरू गांव, चौबेपुर, कानपुर देहात और लखनऊ में स्थित हैं।

विकास दुबे और उसके साथियों ने 3 जुलाई, 2020 को आठ पुलिस कर्मियों की हत्या कर दी थी, जब पुलिसकर्मी कथित तौर पर एक मामले में उन्हें गिरफ्तार करने गए थे।

विकास दुबे को मध्य प्रदेश से गिरफ्तार किया गया और बाद में एक मुठभेड़ में मार गिराया गया और उनके पांच सहयोगियों का भी ऐसा ही हश्र हुआ।

जिला प्रशासन ने बिकरू गांव में दुबे के घर पर बुलडोजर चला दिया था।

पुलिस के अनुसार, एक वरिष्ठ स्तर के अधिकारी ने हाल ही में लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) से गैंगस्टर विकास दुबे सहित बिकरू मामले के सभी आरोपियों की सभी चल और अचल संपत्तियों का मूल्यांकन और अंकन शुरू किया था।

इसी कड़ी में उनके कैशियर जयकांत बाजपेयी की 2.97 करोड़ रुपये की चल-अचल संपत्ति पहले ही कुर्क की जा चुकी है।

इसके बाद पुलिस ने दुबे की दो गाडिय़ों, दो ट्रैक्टर-ट्रॉली, बिकरू गांव स्थित पुश्तैनी मकान, गांव में 12 बीघा जमीन, साकरवां की 13 बीघा जमीन और शिवली में मकान व दुकानों पर छापेमारी की।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.