उत्तर प्रदेश पुलिस को मिली मुख्तार अंसारी की हिरासत, अब जाएंगे बांदा जेल

उत्तर प्रदेश पुलिस को मिली मुख्तार अंसारी की हिरासत, अब जाएंगे बांदा जेल

मऊ से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक एवं गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी को कड़ी सुरक्षा के बीच मंगलवार को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया गया।

मऊ से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक एवं गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी को कड़ी सुरक्षा के बीच मंगलवार को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया गया। कई जघन्य अपराधों में वांछित अंसारी को पंजाब से सड़क मार्ग के रास्ते से यूपी लाया जा रहा है। उन्हें बांदा जिले की जेल में रखा जाएगा।

उत्तर प्रदेश पुलिस के सौ सशस्त्र जवान सड़क मार्ग से 16 घंटे में लगभग 900 किलोमीटर का सफर तय करके सोमवार को पंजाब की रोपड़ शहर की सेंट्रल जेल में पहुंचे। इन जवानों का नेतृत्व पुलिस उपाधीक्षक कर रहे थे। अंसारी को जबरन वसूली और आपराधिक धमकी के मामले में दो साल और दो महीने तक रोपड़ जेल में रखा गया था।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को यहां बताया, "मुख्तार अंसारी को सभी कानूनी और चिकित्सकीय औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया गया। उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच एंबुलेंस से बांदा जेल ले जाया गया।"

उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपने से पहले अंसारी का मेडिकल चेकअप किया गया। उनका कोविड टेस्ट भी कराया गया।

गौरतलब है कि पंजाब पुलिस मोहाली शहर के एक बिल्डर से जबरन वसूली मामले में बांदा जेल से 2019 में पांच बार के विधायक अंसारी को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आई। तब से वह रोपड़ जेल में बंद थे।

सुप्रीम कोर्ट ने 26 मार्च को पंजाब सरकार को दो सप्ताह के भीतर अंसारी को प्रदेश पुलिस को सौंपने के लिए कहा था।

पंजाब सरकार ने उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) को 3 अप्रैल को लिखा था कि 8 अप्रैल से पहले अंसारी को पुलिस को सौंपने के लिए उपयुक्त व्यवस्था करें।

पुलिस के अनुसार, अंसारी पर 50 से अधिक आपराधिक मामले हैं, जिनमें हत्या और अपहरण से संबंधित मामले शामिल हैं।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news