हरिद्वार कुंभ मेले को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने की अपील, समारोह को प्रतीकात्मक रूप से मनाएँ

हरिद्वार कुंभ मेले को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने की अपील, समारोह को प्रतीकात्मक रूप से मनाएँ

महामारी की दूसरी लहर के बीच उत्तराखंड के हरिद्वार में हजारों की तादात में भक्त पावन गंगा स्नान करने के लिए जुटे हुए हैं और इसी के चलते प्रधानमंत्री ने अपनी यह बात रखी है।

हरिद्वार के कुंभ मेला क्षेत्र से कोरोना मामलों की संख्या में उभार आने के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घातक वायरस के खिलाफ जारी लड़ाई को और मजबूत रूप देने के लिए समारोह को प्रतीकात्मक रूप से मनाए जाने की अपील की है।

वार्षिक तौर पर मनाया जाने वाला यह कार्यक्रम कोरोना महामारी के बीच एक गहरी चिंता का विषय बन गया है।

महामारी की दूसरी लहर के बीच उत्तराखंड के हरिद्वार में हजारों की तादात में भक्त पावन गंगा स्नान करने के लिए जुटे हुए हैं और इसी के चलते प्रधानमंत्री ने अपनी यह बात रखी है।

प्रधानमंत्री ने ट्विटर पर कहा कि उनकी फोन पर हिंदू धर्म आचार्य सभा के अध्यक्ष स्वामी अवधेशानंद गिरि जी महाराज से बात हुई है।

पीएम ने कहा, "आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि जी से आज फोन पर बात की। सभी संतों के स्वास्थ्य का हाल जाना। सभी संतगण प्रशासन को हर प्रकार का सहयोग कर रहे हैं। मैंने इसके लिए संत जगत का आभार व्यक्त किया। मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना के संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी।"

इसके बाद हिंदू धर्म आचार्य सभा के अध्यक्ष ने ट्वीट करते हुए कहा, "माननीय प्रधानमंत्री जी के आह्वान का हम सम्मान करते हैं! जीवन की रक्षा महत पुण्य है। मेरा धर्म परायण जनता से आग्रह है कि कोविड की परिस्थितियों को देखते हुए भारी संख्या में स्नान के लिए न आएं एवं नियमों का निर्वहन करें।"

कथित तौर पर कोरोनावायरस संक्रमण के चलते एक संत के निधन होने और कई अन्यों के पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रधानमंत्री ने इसे प्रतीकात्मक रूप से मनाए जाने की अपील है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2,34,692 नए मामले दर्ज हुए हैं, जो एक दिन में दर्ज किया गया सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसी के साथ देश में संक्रमितों की कुल संख्या शनिवार को 14,526,609 हो गई है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news