e commerce companies
e commerce companies
कारपोरेट

लॉकडाउन 4.0: ई-कामर्स कंपनियों को बड़ी राहत, अब रेड जोन में भी जरूरी सामानों की कर सकेंगे डिलीवरी

ई-कॉमर्स कंपनियों Amazon, Flipkart, Paytm Mall, Snapdeal को राहत मिलने वाली है. केंद्र की नई गाइडलाइंस के अनुसार अब ई-कॉमर्स कंपनियां जरूरी और गैर-जरूरी सामानों को कन्टेन्मेंट जोन छोड़कर हर जगह डिलिवरी कर सकते हैं. इसमें रेड जोन भी शामिल है.

Yoyocial News

Yoyocial News

कोरोनावायरस के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए देश में एक बार फिर लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ा दिया गया है. इसके साथ ही केंद्र सरकार ने यह भी साफ कर दिया है कि कोरोना संकट को देखते हुए राज्य अपने हिसाब से फैसला ले सकते हैं, जिसके बाद सभी राज्य अपनी नई गाइडलाइंस बनाने में जुटे हुए हैं.

केंद्र की नई गाइडलाइंस के अनुसार अब ई-कॉमर्स कंपनियां जरूरी और गैर-जरूरी सामानों को कन्टेन्मेंट जोन छोड़कर हर जगह डिलिवरी कर सकते हैं. इसमें रेड जोन भी शामिल है. ई कॉमर्स कंपनियों को लॉकडाउन के तीसरे चरण में सिर्फ ग्रीन और ऑरेंज जोन में ही गैर जरूरी सामानों की डिलिवरी की इजाजत दी गई थी.

बता दें कि गृह मंत्रालय ने रविवार को लॉकडाउन की विस्तारित अवधि के लिए दिशानिर्देश जारी करते हुए घोषणा की कि सोमवार से लॉकडाउन 4.0 के दौरान कंटेनमेंट जोन को छोड़कर सभी दुकानें अलग-अलग समय पर खुलेंगी. गृह मंत्रालय ने कहा कि स्थानीय अधिकारियों को सुनिश्चित करना चाहिए कि कंटेनमेंट जोन को छोड़कर दुकानें, बाजार अलग-अलग समय पर खुलें और साथ ही सामाजिक दूरी के नियमों का पालन सुनिश्चित कराया जाए.

लॉकडाउन की शुरुआत के समय से ही आवश्यक पदार्थों की दुकानों को खुलने की अनुमति थी, जबकि चार मई से पड़ोस की दुकानों, मोहल्ले की अकेली गैर जरूरी सामानों की दुकानों को खुलने की अनुमति दी गई थी. ई-कॉमर्स कंपनियों द्वारा आवश्यक सामान की आपूर्ति की पहले भी अनुमति थी.

Lockdown 4.0 में ई-कॉमर्स कंपनियों Amazon, Flipkart, Paytm Mall, Snapdeal को राहत मिलने वाली है. केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने ई-कॉमर्स कंपनियों को नॉन एसेंशिएट प्रोडक्ट्स रेड जोन में भी डिलीवर करने की अनुमति दे दी है. आपको बता दें कि 4 मई से शुरू हुए Lockdown 3.0 में ई-कॉमर्स कंपनियां केवल ग्रीन और ऑरेंज जोन में ही नॉन एसेंशिअल प्रोडक्ट्स जैसे कि स्मार्टफोन, फैशन प्रोडक्ट्स, इलेक्ट्रॉनिक गुड्स आदि को डिलीवर कर पा रहे थे.

Amazon, Flipkart, Paytm Mall, Snapdeal जैसे ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए मैट्रो शहर बड़ा बाजार है. इन कंपनियों के 70 प्रतिशत ऑर्डर इन बड़े शहरों से ही आते हैं. देश के ज्यादातर बड़े शहर रेड जोन में है, जिसकी वजह से पिछले कई सप्ताह से ई-कॉमर्स कंपनियों का बिजनेस पूरी तरह से बंद था. Lockdown 4.0 की नई गाइडलाइन्स से ई-कॉमर्स कंपनियों का कारोबार एक बार फिर से पटरी पर आने की उम्मीद है. साथ ही, स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां भी पेंडिंग पड़े अपने डिवाइसेज और प्रोडक्ट्स को भी लॉन्च करेंगी.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news