माइक्रोसॉफ्ट ने 2022 के अमेरिकी चुनावों के लिए सभी राजनीतिक डोनेशन रोके

माइक्रोसॉफ्ट ने 2022 के अमेरिकी चुनावों के लिए सभी राजनीतिक डोनेशन रोके

अमेरिका में 2020 में हुए चुनावों में इलेक्टर्स के सर्टिफिकेशन पर आपत्ति जताने वाले कांग्रेस के सदस्यों, अधिकारियों और संगठनों के पदाधिकारियों के लिए 2022 में होने वाले चुनावों के लिए पॉलिटिकल डोनेशन रद्द करने की घोषणा की है।

अमेरिका में 2020 में हुए चुनावों में इलेक्टर्स के सर्टिफिकेशन पर आपत्ति जताने वाले कांग्रेस के सदस्यों, अधिकारियों और संगठनों के पदाधिकारियों के लिए 2022 में होने वाले चुनावों के लिए पॉलिटिकल डोनेशन रद्द करने की घोषणा की है। इनमें वो सदस्य भी शामिल हैं, जो इलेक्टर्स के सर्टिफिकेशन को समर्थन देने से बच रहे थे।

बीती 6 जनवरी को राष्ट्रपति चुनाव को पलटने का प्रयास करने के बाद कंपनी ने अपनी कर्मचारी-वित्त पोषित पॉलिटिकल एक्शन कमेटी (पीएसी) से राजनीतिक योगदान देने पर अस्थायी तौर पर रोक लगा दी है।

अमेरिकी सरकार के मामलों के कॉरपोरेट वाइस प्रेसिडेंट फ्रेड हम्फ्रीज ने कहा है, "उस समय से ही हम इन मुद्दों का आंकलन कर रहे हैं। पिछले दो हफ्तों में हमने इस पर 2 सेशन भी आयोजित किए, ताकि मसले पर संवाद हो सके।"

माइक्रोसॉफ्ट ने सार्वजनिक पारदर्शिता, वित्त सुधार के लिए अभियान और मतदान के अधिकारों को बढ़ावा देने वाले संगठनों को सपोर्ट करने के लिए एक नया डेमोक्रेसी फॉरवर्ड इनिशिएटिव बनाने की भी घोषणा की है।

कंपनी ने शुक्रवार को एक बयान में कहा, "हम लोकतंत्र को मजबूत करना चाहते हैं। इसके लिए हम अन्य व्यवसायों और संगठनों के साथ बातचीत को बढ़ावा देंगे। हाल की घटनाओं के बाद हमें लगता है कि यह सीखने और साथ काम करने का एक अच्छा अवसर है। "

इसके अलावा टेक दिग्गज ने पीएसी का नाम बदलकर माइक्रोसॉफ्ट कॉरपोरेशन स्टेकहोल्डर्स वॉलेंटियरी पीएसी (एमएसवीपीएसी) रख दिया है।

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news